DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नोएडा है बेहतरीन शहर: गौ-रेस

 गेम में हल्का ब्रेक था बच्चों की जिद्द थी कि उन्हें शहर दिखाया जाए,इसलिए हमने लोगों से पूछा तो उन्होंने नोएडा के जीआइपी का नाम ही सुझया,इसलिए यहां आए। ये मॉल बहुत की बेहतरीन है और मुङो यहां आकर अच्छा लगा। अभी तक नोएडा केवल आरुषि व निठारी के नाम से ही सूना था,लेकिन यह शहर काफी बेहतरीन हैं, यह कहना है कि जर्मन से आए एक परिवार का। ये लोग दोपहर में नोएडा में मॉल्स में घूमने के लिए आए थे।


इस मौके पर उन्होंने कहा कि हमारा जर्मन भले ही इस गेम में नहीं है  लेकिन हम लोग इग्लैँड के सपोर्टर हैं और आज उनके गेम को खत्म होने के बाद हम परिवार के साथ मस्ती करने आए थे।

इसी मौके पर इंग्लैड से आई गौ-रेस नामक महिला ने सेक्टर-38 के झूलों को मजा लिया। इस मौके पर उसने बताया कि वे कल गुडगांव गई थी,लेकिन उसे नोएडा ज्यादा अच्छा लगा। यहां न तो उसे ट्रेफिक ही मिला और न ही गंदगी। यही नहीं यहां के राइड इतने बेहतरीन है कि मुङो नहीं लगा कि जिस भारत में सूनती थी वह ऐसा भी हो सकता हैं। मुङो बेहद खुशी है कि इस देश में अन्य देशों की तुलना में काफी तरक्की हैं।
एलआईयू के आंकड़ों के अनुसार: अब तक तीन दिनों में दो हजार से अधिक विदेशी नोएडा में घूमने आ चूके है। उनके अनुसार उनकी संख्या में और भी इजाफा हो सकता है लिहाजा मॉल की सुरक्षा और बढ़ाई गई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नोएडा है बेहतरीन शहर: गौ-रेस