अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गबन के मामले में विनोद कोर्ट में पेश हुआ

बैंक आफ बड़ोदा की चाइबासा शाखा से करीब पांच करोड़ रुपये के गबन तथा धोखाधड़ी के मामले में अभियुक्त विनोद सिन्हा को मंगलवार को एसडीजेएम देवेंद्र कुमार पाठक की अदालत में पेश किया गया। विनोद सिन्हा को कोर्ट में करीब 2.35 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच लाया गया।

उनके अधिवक्ता पांडेय नीरज कुमार ने अदालत से कहा कि गबन के मामले में विनोद सिन्हा के खिलाफ सीबीआई द्वारा दर्ज की गयी प्राथमिकी कानूनी तौर पर सही नहीं है। इसका दलील देते हुए उन्होंने कहा कि यही मामला चाइबासा पुलिस ने भी काफी दिनों पहले दर्ज किया था।

सीबीआई को प्राथमिकी दर्ज करने से पहले चाइबासा की अदालत से अनुमति लेना चाहिए था। मगर सीबीआई ने बगैर अनुमति लिये ही प्राथमिकी दर्ज की है। सीबीआई के वरीय लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने अदालत से कहा कि विनोद सिन्हा के खिलाफ कानूनी प्रावधानों का पालन करते हुए प्राथमिकी दर्ज की है। इसके लिए अदालत को सूचित भी कर दिया गया है।

इसपर बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने कहा कि अदालत को सूचना भर दी गयी है, अनुमति तो नहीं मिली है। दोनों पक्षों का जिरह सुनने के बाद अदालत ने सीबीआई को स्थिति स्पष्ट करने के लिए 27 अक्तूबर तक का समय दिया। अब इस मामले की अगली सुनवाई भी 27 अक्तूबर को ही होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गबन के मामले में विनोद कोर्ट में पेश हुआ