अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर पर वार्ताकारों के नाम जल्द होंगे तय

जम्मू-कश्मीर के विभिन्न वर्गों से बातचीत करने के लिए वार्ताकारों के नामों को इस सप्ताह के अंत तक अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है। उच्च पदस्थ सरकारी सूत्रों ने बताया कि आने वाले कुछ दिनों, सप्ताह के अंत तक संभवत: वार्ताकारों के नाम तय हो जाएं।

सूत्रों ने कहा कि यह प्रक्रिया पेचीदा है इसलिए समय लग रहा है। टीम में ऐसे लोगों को शामिल किया जाएगा, जो संतुलित नजरिया रखते हों और जिससे कट्टरपंथी, नरमपंथी और अन्य समूह के लोगों को महसूस हो कि उनकी बात गंभीरता से सुनी जाएगी।
 
उन्होंने कहा कि नामों का चयन काफी सावधानी से किया जा रहा है क्योंकि एक बार वार्ताकार नियुक्त होने पर उसका नाम टीम से हटाना मुश्किल होगा। सूत्रों ने कहा कि वार्ताकारों के नामों पर कोर समूह की बैठक में विचार होगा। उसके बाद सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति इस पर विचार करेगी और फिर कोई फैसला किया जाएगा।

एक सवाल के जवाब में सूत्रों ने कहा कि वार्ताकारों की टीम का नेतृत्व किसी राजनीतिक व्यक्ति को सौंपने को तरजीह दी जा रही है और उसे कैबिनेट मंत्री का दर्जा हासिल होगा, लेकिन कोई योग्य राजनीतिक व्यक्ति नहीं मिलने पर उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश या किसी विश्वविद्यालय के कुलपति जैसे नामों पर भी विचार किया जा सकता है।
 
उन्होंने कहा कि किसी ऐसे व्यक्ति को टीम की कमान सौंपी जाएगी, जो संतुलित विचारधारा वाला हो। ऐसा व्यक्ति टीम का नेतृत्व करेगा जो प्रधानमंत्री के भरोसे का भी हो। सूत्रों ने कहा कि वार्ताकारों की टीम जम्मू-कश्मीर के विभिन्न वर्गों से संभवत: दो से तीन साल तक गहन विचार विमर्श और वार्ता करेगी ताकि अधिक से अधिक लोगों तक संपर्क स्थापित किया जा सके।

उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर में बंकर हटाए जा रहे हैं। नौ बंकर आज हटाये गये और पांच बंकर कल हटा लिये जाएंगे। यह अच्छा कार्य हो रहा है क्योंकि यह काफी समय से लंबित था। अब लोग मुक्त होकर शहर के भीतर आवागमन कर सकेंगे। हालांकि यह कार्य काफी पहले हो जाना चाहिए था।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर पर वार्ताकारों के नाम जल्द होंगे तय