अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंडमान और निकोबार में हर 100 मील पर होगी एक हवाई पट्टी

अंडमान और निकोबार केंद्र शासित क्षेत्र में प्रत्येक 100 मील पर ऐसी हवाई पटिटयां बनायी जाएंगी जिनका हर मौसम में हर प्रकार के विमानों के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा।
    
नौसेना की अंडमान निकोबार कमान के कमांडर इन चीफ वाइस एडमिरल डी के जोशी ने कहा कि प्रत्येक 100 मील पर आप एक वायुक्षेत्र पाएंगे जो कि वर्षभर सभी प्रकार के हवाई जहाजों के संचालन के लिए उपलब्ध होगा।

फिलहाल द्वीप में पोर्ट ब्लेयर हवाई एक विकसित हवाई अडडा है जहां हर मौसम में हर प्रकार के विमानों के उतरने और उड़ने की पूरी सुविधा है। पर इसके पूर्व में एक पहाड़ी होने के कारण इस पर एक तरफ से ही विमानों का उड़ना उतरना संभव हो पाता है। इसे दोनों तरफ से सुविधाजनक बनाने की भी तैयारी चल रही है।


कार निकोबार, शिबपुर और कैंपबेल खाड़ी की हवाई पटिटयों का उन्नयन करके इन्हें बड़ा रन-वे बनाया जाएगा। इस बीच रक्षा अधिकारियों ने बताया कि द्वीप में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ताज समूह एक उद्यम स्थापित कर रहा है। उन्होंने बताया कि इस पर्यटन और दूसरे क्षेत्रों में आने वाले समय में तेजी से प्रगति होने की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अंडमान और निकोबार में हर 100 मील पर हवाई पट्टी