DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मालेगांव विस्फोटः पुरोहित को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी जमानत

मालेगांव विस्फोटः पुरोहित को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी जमानत

सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 2008 के मालेगांव बम विस्फोट मामले के एक आरोपी लेफ्टिनेंट कर्नल एसपी पुरोहित को जमानत देने से मंगलवार को इनकार कर दिया।

न्यायमूर्ति मार्कंडेय काट्जू और न्यायमूर्ति टीएस ठाकुर की खंडपीठ ने ले. कर्नल पुरोहित के वकील की दलीलों से असहमति जताते हुए जमानत पर रिहा करने के आदेश देने से इनकार कर दिया।

पुरोहित के वकील ने दलील दी कि उनके मुवक्किल पिछले 18 महीनों से जेल में बंद हैं और इस मुकदमे की सुनवाई में निश्चित तौर पर अधिक समय लगेगा। ऐसी स्थिति में उन्हें जमानत पर रिहा करने के आदेश दिए जाने चाहिए।

हालांकि खंडपीठ ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर घटना है। इस बमकांड में अनेक लोग मारे गए थे। इस मुकदमे की सुनवाई अब भी जारी है। वकील ने ले. कर्नल पुरोहित के खिलाफ महाराष्ट्र संगठित अपराध निरोधक कानून (मकोका) के तहत मुकदमा चलाए जाने पर रोक लगाने का अनुरोध करते हुए कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ पहले से न तो कोई आपराधिक रिकॉर्ड है। न ही उनके किसी गैर-कानूनी गतिविधि में लिप्त रहने की कोई गुप्त सूचना है। ऐसी स्थिति में उनके मुवक्किल के खिलाफ मकोका के तहत मुकदमा नहीं चलाया जाना चाहिए।

ऐसी ही एक याचिका साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भी सुप्रीम कोर्ट में दायर कर रखी है। जिसकी सुनवाई मंगलवार को समयाभाव के कारण नहीं हो सकी। गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मालेगांव में 2008 में हुए बम विस्फोट में सात लोग मारे गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मालेगांव विस्फोटः पुरोहित को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी जमानत