DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनिंदा विश्वविद्यालयों में विज्ञान और कला के साथ बीएड कोर्स

चुनिंदा विश्वविद्यालयों में विज्ञान और कला के साथ बीएड कोर्स

देश के कुछ चुनिंदा विश्वविद्यालयों में बीए और बीएससी के साथ बीएड के चार वर्षीय पाठ्यक्रम के प्रस्ताव को इनकी अकादमिक परिषद की मंजूरी मिलने पर जुलाई 2011 से इन उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में बीए़-बीएड या बीएससी़-बीएड कोर्स शुरू हो सकते है।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय यानी इग्नू के कुलपति प्रो वी एन राजशेखरन पिल्लै ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल की अध्यक्षता में केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की बैठक में समिति की इस सिफारिश पर सहमति बनी है। इसके बाद कुछ चुनिंदा विश्वविद्यालयों की अकादमिक परिषद की मंजूरी मिलने पर जुलाई 2011 से इस पर अमल करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है।

केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों में इस बात पर सहमति बनी कि बीए के साथ बीएड और बीएससी के साथ बीएड का चार वर्षीय 3 प्लस 1 पाठयक्रम पेश किया जाए। हालांकि बीकाम के साथ कोई बीएड कोर्स नहीं होगा।

इस पाठयक्रम के बारे में सुझाव देने के लिए प्रो पिल्लै के नेतृत्व में समिति का गठन किया गया था और इस समिति ने हाल ही में मानव संसाधान विकास मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी है।

पिल्लै ने कहा कि देश के कुछ उच्च गुणवत्ता वाले कालेजों में बीए और बीएससी के साथ बीएड कोर्स शुरू करने पर सहमति बनी है। इसके तहत छात्र तीन वर्षीय बीए या बीएससी पाठयक्रम के साथ एक अतिरिक्त वर्ष पढ़ाई कर बीएड कोर्स कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि यह एक समन्वित पाठयक्रम होगा जिसके माध्यम से छात्र बीए़-बीएड या बीएससी़-बीएड की डिग्री प्राप्त कर सकेंगे।

पिल्लै ने कहा कि इस पाठयक्रम के लिए राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीइआरटी)
पाठ्यसामग्री तैयार कर रहा है। कुछ क्षेत्रीय कालेजों में इस तरह के चार वर्षीय कोर्स पहले से ही चलाये जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुनिंदा विश्वविद्यालयों में विज्ञान और कला के साथ बीएड कोर्स