अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ में आठवें राष्ट्रीय पुस्तक मेले का शुभारम्भ

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल बीएल जोशी ने नवाबों की नगरी लखनऊ के मोती महल लान में रविवार से दस दिवसीय राष्ट्रीय पुस्तक मेले का शुभारम्भ किया।

नालेज ट्री फाउण्डेशन की ओर से आयोजित आठवें राष्ट्रीय पुस्तक मेले का शुभारम्भ करते हुए जोशी ने कहा कि ज्ञान के प्रसार में जो भी साधन उपयोग में लाये जाते रहे हैं उनमें पुस्तक एक बहुत ही बड़ा स्रोत है जिसके जरिये ज्ञान का प्रसार होता है और पुस्तक मेला एक ऐसा सशक्त माध्यम है जो पुस्तकें पढ़ने की रुचि को बढ़ाता है।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार के पुस्तक मेले लोगों के लिए लाभदायक साबित होते है, जिससे व्यक्ति विभिन्न प्रकार की पुस्तकों से लाभ प्राप्त करता है।

इस पुस्तक मेले में दिल्ली, मुंबई, आगरा, लखनऊ और इलाहाबाद के लगभग 90 प्रकाशकों ने अपने अपने स्टाल लगाये हैं, जिसमें वेद, ज्ञान, धर्म, कहानी, कविता, शायरी, आत्मकथा, ज्योतिष, कार्टून साहित्य और प्रबंधन तरीके सिखाने वाली पुस्तकें उपलब्ध हैं।

पुस्तक मेले में हमेशा की तरह भांति भांति के विषयों पर आधारित पुस्तकें आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की गठबंधन की राजनीति, नजरबंद लोकतंत्र, निर्मल वर्मा के चिटिठयों के दिन, देहरी पर पत्र, महात्मा गांधी की पुस्तक मेरे सपनो का भारत और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की बेस्ट सेलर पुस्तक बराक ओबामा  आशा का सवेरा हिन्दी में उपलब्ध है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लखनऊ में आठवें राष्ट्रीय पुस्तक मेले का शुभारम्भ