DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओबामा-मनमोहन वार्ता में शामिल रहेगा 'अफगान-पाक' मुद्दा

ओबामा-मनमोहन वार्ता में शामिल रहेगा 'अफगान-पाक' मुद्दा

अमेरिका ने उम्मीद जताई है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा की आगामी भारत यात्रा के दौरान विश्व अर्थव्यवस्था, द्विपक्षीय व्यापार संबंधों के साथ-साथ पाकिस्तान और अफगानिस्तान के हालात बातचीत के प्रमुख बिंदुओं में शामिल रहेंगे।

ओबामा नवम्बर में भारत का दौरा कर रहे हैं। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता रॉबर्ट गिब्स ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि मेरा मानना है कि विश्व अर्थव्यवस्था और दोनों देशों के द्विपक्षीय व्यापार रिश्ते राष्ट्रपति ओबामा की यात्रा के  दौरान महत्वपूर्ण बिंदु होंगे। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के नजरिए से अफगानिस्तान और पाकिस्तान की स्थिति भी अहम बिंदुओं में शामिल होगी। इस पर राष्ट्रपति ओबामा और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह चर्चा करेंगे क्योंकि ये दोनों देश भारत के लिए भी महत्व रखते हैं।

गिब्स ने इस बारे में कुछ नहीं कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के दावे का मसला इस यात्रा के दौरान चर्चा में शामिल रहेगा या नहीं। उन्होंने कहा कि सुरक्षा परिषद को लेकर फिलहाल मेरे पास कहने को कुछ नहीं है। उधर, अमेरिका के दूसरे वरिष्ठ अधिकारी कहते हैं कि ओबामा की इस यात्रा के दौरान तीन ऐसे बिंदु होंगे जो दोनों देशों के संबंधों में मील का पत्थर का साबित होने जा रहे हैं।

दक्षिण एशिया मामलों के सहायक विदेश मंत्री रॉबर्ट ब्लैक ने कहा कि राष्ट्रपति ओबामा की इस यात्रा से पहला आयाम यह होगा कि भारत की उभरती अर्थव्यवस्था ने किस तरह से दोनों देशों के परस्पर आर्थिक हितों को फायदा पहुंचाया है। ब्लैक सान डिएगो में 27वें 'महात्मा गांधी मेमोरियल लेर' में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि इस यात्रा से दूसरा प्रमुख आयाम कृषि और शैक्षणिक सहयोग में स्थापित होगा। तीसरा आयाम एशिया में भारत का बढ़ता नेतृत्व है जिसके जरिए हम वैश्विक सुरक्षा और समृद्धि के लिए परस्पर सहयोग को और बढ़ा सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओबामा-मनमोहन वार्ता में शामिल रहेगा 'अफगान-पाक' मुद्दा