DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ताजमहल का दीदार और असली भारत से मिलेंगे विदेशी खिलाड़ी

ताजमहल का दीदार और असली भारत से मिलेंगे विदेशी खिलाड़ी

राष्ट्रमंडल खेलों में शामिल होने वाले खिलाड़ी खेलगांव में जरूर ठहरे हैं, लेकिन वे भी भारत आए अन्य पर्यटकों की भांति ताजमहल के अलावा दिल्ली के बाजारों को देखने के साथ-साथ आम लोगों की जिन्दगी की रफ्तार को महसूस करना चाहते हैं।

खेलगांव में ठहरे अधिकतर खिलाड़ियों की पहली पसंद ताजमहल का दीदार है। इनमें से कुछ राजस्थान के शहरों का दर्शन करने की योजना बना रहे हैं, तो कुछ दिल्ली और इसके आस-पास स्थित धरोहरों और मंदिरों को घूमने की योजना बना रहे हैं।

कुक आइसलैंड के नेटबॉल के नियोलाइन ने बताया कि उसे दिल्ली का बाजार देखना है। गेम्स ट्रेवेल ऑफिस के एक अधिकारी ने बताया कि हमारे पास सर्वाधिक सिफारिश आगरा का ताजमहल देखने को लेकर आई हैं। पूछताछ से जुड़े 100 मामले आए हैं जिसमें 90 ताजमहल को लेकर हैं। उन्होंने बताया कि अन्य लोगों ने जयपुर घूमने को लेकर इच्छा जाहिर की है। कुछ ऐसे भी हैं जो अक्षरधाम मंदिर देखना चाहते हैं।

अधिकारी ने कहा कि आयोजन समिति ने सभी खिलाड़ियों के लिए एक विशेष एक्सप्रेस ट्रेन से ताजमहल देखने की व्यवस्था की है। उन्होंने बताया  हमने यात्रा तैयारियों को लेकर अग्रिम तैयारियां कर रखी है और उसके लिए सड़क, रेल या हवाई यातायात का विकल्प दिया गया है। हम इसकी बुकिंग अभी नहीं कर रहे हैं।

खेलगांव में ठहरे अधिकतर खिलाड़ी अपने दैनिक अभ्यास सत्र के बाद एक दूसरे से दोस्ती करने, अपना अनुभव बांटने और मौजमस्ती में काट रहे हैं। कुछ अपने केशों को कटवाने के अलावा बालों को संवारने के लिए सैलून में भी दिखाई दे रहे हैं तो कुछ खिलाड़ी आइसक्रीम की दुकानों पर और खेलगांव के हथकरधा उत्पादों की दुकानों में देखे जा सकते हैं।

खेलगांव में बने खुले प्रेक्षागह में बैठकर सभी खिलाड़ी स्वागत समारोह देख सकेंगे। यहां स्कूली बच्चों द्वारा रोजाना गायन एवं नृत्य से जुड़े विभिन्न कार्यक्रम पेश किए जाएंगे। खिलाड़ियों के लिए विशेष सामुहिक स्थल भी बनाया गया है। खासकर खेलगांव में शाम को जब बिजली की चकाचौंध होगी, खिलाड़ी म्यूजिकल फाउंटेन का आनंद ले सकेंगे। मणिपुरी काष्ठकला के नमूने भी खिलाड़ियों को आकर्षित कर रहा है।

खेलगांव के अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में अतुल्य भारत के पोस्टर तो लगाए ही गए हैं साथ ही डाकघर, व्यायामशाला और मनोरंजन से जुड़ी गतिविधियां के साथ भारतीय गांव की छवि को भी बखूबी दिखाया गया है। वेल्स से आए दल के एक अधिकारी ने कहा कि मैं आश्वस्त हूं कि मेरे अधिकतर खिलाड़ी यहां आकर सुकून महसूस करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ताजमहल का दीदार और असली भारत से मिलेंगे विदेशी खिलाड़ी