DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सबसे बड़े खेल उत्सव को तैयार देश, दिल्ली व खेलगांव

सबसे बड़े खेल उत्सव को तैयार देश, दिल्ली व खेलगांव

रविवार से शुरू होने वाले 19वें राष्ट्रमंडल खेलों में भाग ले रहे राष्ट्रमंडल सदस्य देशों के सभी 71 दलों की डेलीगेट रजिस्ट्रेशन मीटिंग [डीआरएम] प्रक्रिया शुक्रवार को पूरी होने के साथ इन खेलों में 6700 से ज्यादा खिलाड़ियों और अधिकारियों की भागीदारी की आधिकारिक पुष्टि हो गई।

आयोजन समिति के महासचिव ललित भनोट ने बताया कि डीआरएम प्रक्रिया पूरी हो गई है और इन खेलों में 6700 से ज्यादा खिलाड़ियों और अधिकारियों के भाग लेने का रास्ता साफ हो गया है। खेल से इतर अधिकारियों की संख्या को जोड़ें तो यह आंकड़ा सात हजार को पार कर जाता है।

इस पुष्टि के साथ ही दिल्ली का नाम राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया। दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल इन खेलों के इतिहास में पहला आयोजक बन गया जिसमें 6000 से ज्यादा खिलाड़ियों और अधिकारियों की हिस्सेदारी होगी। इससे पहले मेलबोर्न में संपन्न 2006 के राष्ट्रमंडल खेलों में 5766 खिलाड़ियों और अधिकारियों ने हिस्सा लिया था। वह तब तक का सबसे राष्ट्रमंडल खेल था। अब दिल्ली ने मेलबोर्न को काफी पीछे छोड दिया है।
 
डीआरएम की प्रक्रिया गत 16 सितंबर को खेलगांव में शुरू हुई थी। इस प्रक्रिया में दल प्रमुख अपने दल की ओर से भागीदारी की पुष्टि करते हैं। हालांकि प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी विलंबित प्रवेश का प्रावधान है जिसके तहत खेल में भाग लेने वालों की संख्या बढ़ सकती है। भनोट ने कहा  कि हमें खुशी है कि दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल इन खेलों के इतिहास में सबसे बडे़ बन गए हैं। हम आशावान हैं कि इन खेलों का आयोजन सफल और सुचारु ढंग से होगा।

इन खेलों में भाग लेने वाले अधिकांश खिलाडी़ और अधिकारी दिल्ली पहुंच चुके हैं। हालांकि छिटपुट आगमन का सिलसिला अभी जारी है। गुरुवार तक 5500 से ज्यादा विदेशी प्रतिभागी यहां पहुंच चुके थे। विदेशी दलों के अलावा 619 सदस्यीय भारतीय दल के अधिकतर सदस्य भी खेलगांव पहुंच चुके हैं। खेलगांव में सभी दलों के आधिकारिक स्वागत समारोह शुक्रवार को शुरू हो गए। इससे पहले विभिन्न दलों के प्रवेश पर उनके स्वागत और ध्वजारोहण कार्यक्रम भी हुए थे।
 
खेलों के लिए 1250 खिलाड़ियों और अधिकारी गुरुवार को दिल्ली पहुंचा था, जबकि बुधवार को 1150 खिलाडी़ और अधिकारी यहां आए थे। इससे पहले मंगलवार को 850, सोमवार को 550 और रविवार को 1100 खिलाड़ियों और अधिकारियों का जत्था यहां पहुंचा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सबसे बड़े खेल उत्सव को तैयार देश, दिल्ली व खेलगांव