अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीआरपीएफ नियुक्ित घोटाला: आईजी सहित 8 गिरफ्तार

सीआरपीएफ में नियुक्ित में भ्रष्टचार के मामले में सीबीआई ने सीआरपीएफ के आईजी पुष्कर सिंह को लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया। उनके अलावा सात अन्य व्यक्ितयों को गिरफ्तार किया गया है जिनमें चार गिरफ्तारियां पटना के अलग-अलग ठिकानों से की गयी है। इनमें मुकेश कुमार, स्वाति भारद्वाज, त्रिपुरारी कुमार उर्फ बबलू और सिंधूनाथ शर्मा शामिल हैं। सभी दलाल हैं। सीबीआई सूत्रों के अनुसार स्वाति मुकेश की पत्नी है। वहीं यमुनानगर से सीआरपीएफ के जमशेदपुर स्थित 132 बटालियन के कमांडेंट यादवेन्द्र सिंह सहित दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किए जाने की खबर है। पुष्कर सिंह और चार अन्य व्यक्ितयों को बुधवार को रिमांड पर लेने के लिए पटना में सीबीआई की कोर्ट में पेश किया गया। उधर कमांडेंट यादवेन्द्र सिंह को सीबीआई ने एक दिन के ट्रांजिट रिमांड पर लिया है।ड्ढr ड्ढr सीबीआई सूत्रों के अनुसार अभी तक की जांच में अलग-अलग ठिकानों से करीब 1 करोड़ 15 लाख रुपए नकद और निवेश से जुड़े दस्तावेज जब्त किए गए हैं। पुष्कर सिंह के ठिकानों पर 23 लाख रुपए नगद और 15 लाख रुपए के निवेश से संबंधित दस्तावेज के अलावा फरीदाबाद में संपत्ति से जुड़े दस्तावेज हाथ लगे हैं। इनमें दो पुष्कर सिंह और एक अन्य संपत्ति दूसर व्यक्ित के नाम पर है। मंगलवार की देर शाम सीआरपीएफ आईजी पुष्कर सिंह के पटना स्थित कार्यालय और आवास पर छापेमारी के दौरान सीबीआई को कई अहम दस्तावेज हाथ लगे थे जिसके बाद उन्हें पूछताछ के लिए सीबीआई कार्यालय लाया गया था। पूछताछ और दस्तावेजों के आधार पर यह पता चला है कि वर्ष 2003 से ही नियुक्ितयों में धांधली चल रही थी। आईजी से रात भर चली पूछताछ के बाद सीबीआई ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पटना के ही कदमकुआं इलाके में उमा सिनेमा हॉल के पास से दलालों का सरगना मुकेश और उसकी पत्नी स्वाति को गिरफ्तार किया गया।ड्ढr ड्ढr इसके अलावा मुन्नाचक इलाके से दो अन्य दलालों की गिरफ्तारी की गयी है। इनके ठिकानों से भी सीबीआई ने कई अहम दस्तावेज जब्त किए हैं। सीबीआई सूत्रों के अनुसार ऐसी सूचना मिली थी कि दलालों का नेटवर्क सीआरपीएफ के बिहार सेक्टर (बिहार-झारखण्ड) के वरिष्ठ अधिकारियों के संपर्क में है जिसमें आईजी, डीआईजी और कुछ कमांडेंट शामिल हैं। अधिकारियों पर यह आरोप है कि उन्होंने दलालों के मार्फत लाए गए उम्मीदवारों को बहाली में मदद की। दलालों का यह नेटवर्क बिहार और झारखण्ड में सक्रिय बताया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीआरपीएफ नियुक्ित घोटाला: आईजी सहित 8 गिरफ्तार