DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानव संसाधान विकास कार्यालय के कर्मचारी को डेंगू

जिले में बुखार व डेंगू ने आज फिर दो जिंदगी छीन ली। पिपलैड़ा में एक युवक की संदिग्ध डेंगू से मौत हो गई तो गढ़ क्षेत्र में बुखार के कारण एक बच्ची जिंदगी से हार गई। बुखार व डेंगू से मरने वालों का आंकड़ा 100 को पार कर चुका है। काफी संख्या में मरीज अस्पतालों में जिंदगी व मौत के बीच झूल रहे हैं।


पिपलैड़ा निवासी मुनतियाज के 17 साल के बेटे शारूख को कई दिनो से बुखार था। गाजियाबाद के एक निजी अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था। यहां हालत गंभीर होने पर उसे जीटीबी के लिए रेफर कर दिया गया। वहां आज उसकी मौत हो गई। पिपलैडा में अभी तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं गढ क्षेत्र के मौहल्ला आदर्श नगर निवासी खुर्शीद की छह साल की बेटी सानिया  बुखार की चपेट में आ गई। कई दिनों के बुखार के बाद आज उसकी मौत हो गई। सानिया को मलेरिया बताया जा रहा है। गढक्षेत्र में अब तक संक्रामक रोग के कारण बीस से अधिक मौत हो चुकी है।
दूसरी ओर संजयनगर स्थिति मानव संसाधन विकास मंत्रलय के क्षेत्रीय कार्यालय में तैनात तकनीकी सहायक डेंगू की चपेट में है। उनका कैलाश अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिले से अस्पातलों में सैकड़ों की संख्या में ऐसे मरीज भर्ती हैं तो जिंदगी व मौत के बीच झूल रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मानव संसाधान विकास कार्यालय के कर्मचारी को डेंगू