राष्ट्रमंडल खेल : घर में सोना जीतने को बेताब हैं अखिल - राष्ट्रमंडल खेल : घर में सोना जीतने को बेताब हैं अखिल DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल खेल : घर में सोना जीतने को बेताब हैं अखिल

राष्ट्रमंडल खेल : घर में सोना जीतने को बेताब हैं अखिल

मेलबर्न में चार वर्ष पहले आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रचने वाले मुक्केबाज़ अखिल कुमार अपने घर में स्वर्ण पदक जीतने को बेताब हैं। राष्ट्रमंडल खेलों में देश के लिए पहला स्वर्ण पदक जीतने का गौरव कुमार के नाम है।

बीजिंग ओलम्पिक में विजेंदर सिंह की सफलता के बाद भारतीय मुक्केबाज़ी जगत में जो निखार आया है, उसमें अखिल का भी योगदान रहा है। मेलबर्न खेलों के चार साल बाद अखिल ने मानों 56 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने की कसम खा ली हो। मेलबर्न में अखिल ने 54 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण जीता था। अखिल साबित करना चाहते हैं कि वह अपने वर्ग में श्रेष्ठ हैं।

अखिल ने कहा कि मेरी आंखें स्वर्ण पर टिक गई हैं। इससे कम मुझे कुछ भी मंज़ूर नहीं। मैं सोना जीतने के लिए बेताब हूं। बीजिंग में मैं पदक नहीं जीत सका। इसका मुझे आज भी मलाल है। मैंने राष्ट्रमंडल खेलों के लिए ज़ोरदार तैयारी की है। अगर सब कुछ सही रहा तो मुझे पदक जीतने से कोई नहीं रोक सकता। मैं अपने घरेलू दर्शकों के सामने स्वर्ण जीतना चाहता हूं।

हरियाणा के शहर भिवानी के अखिल के पास विजेंदर और जितेंदर कुमार की तरह दिखाने के लिए बहुत सारे पदक नहीं हैं। इसका कारण यह रहा है कि वह अपने करियर के दौरान अधिकतर समय तक चोटिल रहे हैं और इस कारण आलोचनों ने उन्हें नकार दिया है।

29 वर्षीय अखिल नई दिल्ली में पदक जीतकर अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर को एक नया आयाम देना चाहते हैं।

अखिल कहते हैं कि चोट के कारण मेरी तैयारियां प्रभावित हुई हैं। भाग्य मेरे साथ नहीं रहा है। राष्ट्रीय खेल संस्थान, पटियाला में अभ्यास करना मेरे लिए फायदेमंद रहा है। मैंने अपनी कई कमियों पर विजय पाई है। अब मैं मुकाबलों के लिए बिल्कुल तैयार हूं। मैं इन दिनों ध्यान लगा रहा हूं। इससे मैं खुद को शांत रख सकूंगा।

अखिल मानते हैं कि इस बार भारत के पास मुक्केबाज़ी में कई पदक जीतने का मौका है। वह कहते हैं कि हम कम से कम चार स्वर्ण पदक जीत सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल खेल : घर में सोना जीतने को बेताब हैं अखिल