अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाइटेक होगा पटना विश्वविद्यालय

सीनेट की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कुलपति ने जहां वर्ष 2008 की उपलब्धियां गिनाई। वहीं 200में विवि की योजनाओं को भी सामने रखा।उन्होंने कहा कि तीन चरणों में विश्वविद्यालय को कंप्यूटर नेटवर्क से जोड़ने की योजना पर कार्य शुरू हो चुका है। प्रथम चरण में विभिन्न शाखाओं को नेटवर्क से जोड़ा जा चुका है। अभी दूसर चरण के तहत स्नातकोत्तर विभाग व कॉलेजों को विवि मुख्यालय से जोड़ने की योजना शुरू होनेवाली है। इससे किसी प्रकार के आदेश-निर्देश को तुरंत उसके स्थान पर पहुंचाया जा सकेगा। तीसर चरण की नेटवर्किंग के लिए विवरण तैयार कर सरकार व यूजीसी से राशि की मांग की गयी है।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि पटना वीमेंस कॉलेज को यूजीसी द्वारा 55 लाख रुपये अनुदान विज्ञान प्रयोगशालाओं के लिए मिला है। इस योजना में शामिल करने के लिए साइंस कॉलेज, बीएन कॉलेज व मगध महिला कॉलेज व वाणिज्य महाविद्यालय ने यूजीसी को आवेदन दिया है। उन्होंने सैदपुर में एकेडमिक कांप्लेक्स के निर्माण की भी योजना पर प्रकाश डाला। साथ ही छात्र हित की योजनाओं को शुरू करने की बात कही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हाइटेक होगा पटना विश्वविद्यालय