DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्रियों की पदोन्नति विकास के लिये अत्यंत जरूरी: निशंक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को कहा कि राज्य मंत्रिमंडल में शामिल राज्य मंत्रियों की पदोन्नति करना विकास के लिए निहायत जरूरी था। यह उनकी मजबूरी नहीं थी बल्कि मजबूती के लिए जरूरी था।

निशंक आज राज्य मंत्रिमंडल में शामिल चार राज्यमंत्रियों को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ दिलाये जाने के बाद राजभवन में  बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऐसा समझना कि यह उनकी मजबूरी थी, बिल्कुल गलत होगा। राज्य के और अधिक तेजी से विकास के लिये यह आवश्यक हो गया था कि राज्य मंत्रियों को कैबिनेट मंत्री का दर्जा देकर विकास की गति को और अधिक तेजी से बढ़ाया जाए।

मुख्यमंत्री से जब यह पूछा गया कि राज्य दैवीय आपदा से जूझ रहा है और ऐसे में मंत्रियों को पदोन्नत करने का क्या औचित्य है तो उन्होंने कहा कि इस आपदा से निपटने के लिए सबसे अधिक वह खुद, उनके मंत्री और अधिकारी लोग जूझ रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य विधान सभा का मानसून सत्र आहूत कर लिया गया है और राज्य मंत्रियों को पदोन्नत करना जरूरी हो गया था ताकि विकास के साथ साथ काम के बढते बोझ से भी बेहतर ढंग से निपटा जा सके। निशंक से जब यह पूछा गया कि क्या पदोन्नत किए गये मंत्रियों के विभागों में कोई फेरबदल किया जायेगा तो उन्होंने कहा अभी ऐसा कोई विचार नहीं है। उन्होंने कहा दो या तीन महीने के बाद मंत्रियों के कामकाज की समीक्षा की जायेगी और जहां आवश्यकता महसूस हुई वहां थोड़ा बहुत फेरबदल हो सकता है।

मुख्यमंत्री से जब यह पूछा गया कि सरकार को समर्थन दे रहे सहयोगी पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल के कोटे में भी बढ़ोत्तरी हो सकती है तो उन्होंने कहा कि इस पर बाद में विचार किया जायेगा। निशंक ने कहा कि उनकी सरकार ने राज्य को देश स्तर पर सर्वोच्च राज्य बनाने के लिये विजन 2020 का लक्ष्य रखा हुआ है और उनकी सरकार इस दिशा में तेजी से काम कर रही है।

निशंक ने बताया कि विजन 2020 के तहत शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, बुनियादी संरचना के विकास तथा आर्थिक
समृद्धि के लिये रोजगार की दिशा में कई महत्वपूर्ण योजनाओं को शुरू किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का पहला लक्ष्य राज्य का चतुर्मुखी विकास करना है और इसके लिये उनके सभी मंत्री तथा अधिकारी रात दिन कार्य कर रहे हैं। वर्तमान में दैवीय आपदा से निपटने के लिये लोग अटठारह-अटठारह घंटे काम कर रहे हैं।

राज्य में पदोन्नत हुए मंत्री बलवंत सिंह भौर्याल ने इस अवसर पर कहा कि नये सिरे से उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी जायगी उसके लिये वह पूरी जी जान से काम करेंगे। उनसे जब यह पूछा गया कि क्या वर्ष 2012 में होने वाले विधान सभा चुनावों के मद्देनजर यह पदोन्नति दी गयी है तो उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में भी प्रदेश की जनता भारतीय जनता पार्टी को भारी बहुमत से विजयी बनायेगी और पार्टी फिर से सत्तारूढ़ होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंत्रियों की पदोन्नति विकास के लिये अत्यंत जरूरी: निशंक