DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे अब पांच अंकों वाली नंबरिंग प्रणाली शुरू करेगी

रेलवे अब पांच अंकों वाली नंबरिंग प्रणाली शुरू करेगी

पूछताछ प्रणाली के जरिए आरक्षण स्थिति की जांच करते वक्त अब टिकट बुक करने वाले यात्रियों को मेल और एक्सप्रेस यात्री ट्रेनों में मौजूदा चार अंकों वाली संख्या के पहले 1 लगाना होगा।

ट्रेनों की संख्या में एकरूपता लाने और उसे तर्कसंगत बनाने के लिए भारतीय रेलवे ने सभी यात्री ट्रेनों के लिए पांच अंकों वाली प्रणाली शुरू करने का फैसला किया है। नयी पांच अंकों वाली प्रणाली इस साल दिसंबर से प्रभावी होगी। फिलहाल, ट्रेनों का नंबर अलग-अलग है। किसी ट्रेन का नंबर तीन अंकों का है तो किसी का चार अंकों का।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ट्रेनों का नंबर पांच अंकों का करना जरूरी हो गया है क्योंकि चार अंकों वाली प्रणाली बेकार हो चुकी है। हालांकि, अधिकारी ने स्पष्ट किया कि ट्रेनों के नाम में बदलाव नहीं किया जा रहा है।
   
ट्रेनों का नंबर पांच अंकों का करने की योजना के दायरे में दुरंतो, राजधानी, शताब्दी, गरीबरथ और उपनगरीय होलीडे स्पेशलों समेत सभी यात्री ट्रेनों को लिया जा रहा है। हालांकि, मालवाहक ट्रेनों को इसके दायरे में नहीं लिया जाएगा।
   
अधिकारी ने कहा कि क्रिस (सेंटर फॉर रेलवे इन्फार्मेशन सिस्टम्स) को निर्देश दिया गया है कि वे सॉफ्टवेयरों में उसके अनुसार संशोधन करने के लिए आवश्यक बदलाव करें। सॉफ्टवेयर के तैयार हो जाने के बाद नए नंबर यात्री आरक्षण प्रणाली और ट्रेन पूछताछ प्रणाली में दिखने लगेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेलवे अब पांच अंकों वाली नंबरिंग प्रणाली शुरू करेगी