DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्लैकबेरी सेवाओं पर एक्सेस का पक्का समाधान देगी रिम

ब्लैकबेरी सेवाओं पर एक्सेस का पक्का समाधान देगी रिम

ब्लैकबेरी सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनी रिसर्च इन मोशन (रिम) को सुरक्षा एक्सेस मुहैया कराने के लिए दी गई 60 दिन की समयसीमा संभवत: कुछ और दिन बढ जाए।
   
गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि ब्लैकबेरी सेवाओं पर सुरक्षा एजेंसियों के एक्सेस की प्रक्रिया चालू है और इस पर विचार के लिए गठित तकनीकी विशेषज्ञों की टीम पूरे मामले को देख रही है।

सूत्रों ने कहा कि समाधान में समय लगेगा लेकिन यह तय है कि 60 दिन के भीतर मैनुएल एक्सेस हासिल हो जाएगा और तीन से चार महीने में आटोमेटिक एक्सेस संभव होगा।

उन्होंने कहा कि गूगल और उसकी जी-मेल सेवाओं के अलावा अन्य ऐसी सेवाओं पर सुरक्षा एजेंसियों के एक्सेस पर भी तकनीकी टीम विचार कर रही है और उन्हें भी संभवत: जल्द ही नोटिस दिया जाएगा।

यह पूछने पर कि क्या 60 दिन की समयसीमा बढाई जाएगी, सूत्रों ने साफ कुछ नहीं कहा लेकिन बताया कि पूरी प्रक्रिया में तीन से चार महीने का समय लगने की संभावना है।

उल्लेखनीय है कि गृह मंत्रालय ने रिम को एक्सेस के मसले पर 31 अगस्त की समयसीमा दी थी। रिम के अधिकारियों के साथ बातचीत के बाद उसे 60 दिन का समय दिया गया और तय हुआ कि तब तक कंपनी सुरक्षा एक्सेस प्रदान करने की दिशा में समाधान खोज लेगी।

गृह सचिव जीके पिल्लै के हवाले से एक खबर में कहा गया है कि ब्लैकबेरी पर सुरक्षा एजेंसियों के एक्सेस के मामले में रिम संभवत: तीन से चार महीने में स्थायी समाधान दे देगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ब्लैकबेरी सेवाओं पर एक्सेस का पक्का समाधान देगी रिम