DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल खेलों में भारत की सबसे बड़ी साइकिलिंग टीम

राष्ट्रमंडल खेलों में भारत की सबसे बड़ी साइकिलिंग टीम

नई साइकिलें मिलने में हो रही देर और कुछ खिलाड़ियों को डेंगू होने से राष्ट्रमंडल खेलों की साइकिलिंग टीम की तैयारियों पर भले ही ग्रहण लगा हो लेकिन इसके बावजूद भारतीय साइकिलिस्टों से पदक की उम्मीद रहेगी।
     
यह पहली बार है जब राष्ट्रमंडल खेलों में 27 सदस्यीय साइकिलिंग टीम भाग ले रही है। हालांकि यह सुनहरा मौका साइकिलिस्टों के प्रदर्शन से नहीं बल्कि भारत द्वारा इन खेलों की मेज़बानी करने की वजह से मिला है। वर्ष 1938 में सिडनी राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने वाले जानकी दास पहले भारतीय साइकिलिस्ट थे जो इन खेलों में उतरे। अंतिम बार 1978 एड़ांटन राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय साइकिलिस्ट अवतार सिंह डोगरा ने भाग लिया था।
     
भारत के पास बिक्रम सिंह, सोमवीर और रामेश्वरी देवी जैसे बेहतरीन साइकिलिस्ट हैं जिन पर सबसे ज्यादा पदकों की उम्मीद रहेगी। मणिपुर के रहने वाले शीर्ष साइकिलिस्ट बिक्रम सिंह ने हाल में जापान में हुए एसीसी ट्रैक एशिया कप की टाइम ट्रायल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था। यह वर्षों बाद पहला मौका है जब किसी भारतीय साइकिलिस्ट ने अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में कोई पदक जीता है।
     
साइकिलिंग के मुख्य कोच चयन चौधरी ने कहा कि साइकिलिस्ट पटियाला में अच्छी तैयारी कर रहे हैं। दिल्ली में सड़कों पर काफी ट्रैफिक रहता है इसी वजह से इन्हें यहां लाया गया है। यहां ये सड़कों पर पांच से छह घंटे तक अभ्यास कर पा रहे हैं।

भारतीय साइकिलिस्टों के कोर ग्रुप ने इसी साल एक महीने का ऑस्ट्रेलिया का दौरा करके आया है। पदक जीतने की संभावना के बारे में कोच ने कहा कि भारतीय साइकिलिस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। हमें ब्रिकम, सोमवीर, रामेश्वरी, महिता मोहन जैसे साइकिलिस्टों से पदक की उम्मीद है।
     
भारतीय साइकिलिस्टों के सामने ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और आयरलैंड के साइकिलिस्ट मुख्य चुनौती पेश करेंगे। इन देशों के साइकिलिस्टों का अब तक राष्ट्रमंडल खेलों में दबदबा रहा है। साइकिलिस्ट फिलहाल अपने खर्चे से खरीदी साइकिलों से अभ्यास कर रहे हैं लेकिन उन्हें जल्द ही इंग्लैंड से मंगाई गई अंतरराष्ट्रीय स्तर की साइकिलें मिल जाएंगी।
     
भारतीय साइकिलिंग महासंघ (सीएफआई) के पदाधिकारी दीपेंद्र सिंह राठौर ने कहा कि साइकिलिस्टों के लिए एक करोड़ 60 लाख रूपए की लागत से इंग्लैंड से साइकिलें मंगवाई गई हैं। साइकिलिस्ट जल्द ही इनसे अभ्यास कर पाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल खेलों में भारत की सबसे बड़ी साइकिलिंग टीम