DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लश्कर आतंकवादी अफगान में, प्रभाव बढ़ाने की कोशिश

अब तक पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के अभियानों को भारत केंद्रित माना जाता रहा है लेकिन एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी का कहना है कि इस संगठन ने अपने अभियानों का विस्तार अफगानिस्तान तक कर लिया है और हाल ही में मारे गए कई आतंकवादी आईएसआई समर्थित इस आतंकी संगठन से संबद्ध पाए गए हैं।

अफगानिस्तान के सीमा सुरक्षा बल के प्रमुख जनरल मोहम्मद जमान महमूदजई ने बताया कि इस बात के सबूत हैं कि कश्मीर तक केंद्रित रहा लश्कर अब अफगानिस्तान में अभियानों का विस्तार कर रहा है। इससे अमेरिकी खुफिया एजेंसियों की आशंकाओं की पुष्टि होती है।

जनरल महमूदजई ने टाइम्स पत्रिका को बताया कि हाल ही में अफगानिस्तान में कुछ घंटों तक हुई गोलीबारी में 40 से 50 उग्रवादी मारे गए। इनमें से कुछ उग्रवादियों के पास पाए गए दस्तावेजों से संकेत मिलता है कि वे लश्कर के सदस्य थे।

उन्होंने बताया अमेरिकी सैन्य अधिकारियों ने भी इसकी पुष्टि की है। उनका कहना है कि लश्कर के उग्रवादी न सिर्फ घातक हथियार ला रहे हैं बल्कि उनकी तकनीकें भी कम उलझाने वाली नहीं हैं।

पत्रिका के अनुसार, अफगानिस्तान में लश्कर की मौजूदगी ऐसे समय पर सामने आई है जब पाकिस्तान चिंता जता चुका है कि काबुल में भारत का प्रभाव वहां भारतीय रणनीति के असर को दर्शाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लश्कर कर रहा है अफगानिस्तान में प्रभाव बढ़ाने की कोशिश