अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमाई बढ़ाओ और बढ़िया पोस्टिंग पाओ

आय बढ़ाओ और बढ़िया पोस्टिंग पाओ! राजस्व वृद्धि के लिए परिवहन विभाग ने यह नया फामरूला तैयार किया है। इसके तहत राज्य के 38 जिलों को वाहनों की संख्या और टैक्स क्षमता के हिसाब से चार वर्गो में बांटा जायेगा। इसके दायर में आने वाले जिला परिवहन पदाधिकारी और मोटर वाहन निरीक्षकों के कामकाज की समीक्षा के लिए भी अलग-अलग मानक बनाया जा रहा है। वैसे इस पूरी कवायद का सीधा असर वाहन मालिकों पर ही पड़ेगा। इसलिए यातायात नियमों के प्रति अभी से सचेत हो जाना जरूरी है।ड्ढr ड्ढr परिवहन विभाग को चालू वित्तीय वर्ष में 450 करोड़ रुपये की तुलना में अबतक लगभग 220 करोड़ रुपये ही प्राप्त हो सके हैं। जनवरी से मार्च के बीच 230 करोड़ रुपये वसूलने की चुनौती है।अधिकारियों के व्यक्ितगत प्रदर्शन के आधार पर ही उन्हें ऊपर या नीचे के वर्ग में भेजे जाने का फैसला होगा। लिहाजा डीटीओ और एमवीआई अब चालकों की छोटी-मोटी गलतियों पर भी चालान काटने का मौका नहीं छोड़ेंगे। यह फामरूला इसलिए भी तैयार किया गया है कि पहली बार सभी जिलों में परिवहन विभाग के सीधे नियंत्रण वाले डीटीओ तैनात हुए हैं।ड्ढr ड्ढr सूत्रों के अनुसार वर्ग ए में पटना, मुजफ्फरपुर, गया, भागलपुर, दरभंगा और पूर्णिया, वर्ग बी में रोहतास, छपरा, भोजपुर, बेगूसराय, वर्ग सी में मुंगेर, सहरसा, नालंदा, बेतिया, समस्तीपुर जबकि वर्ग डी में शिवहर, लखीसराय, शेखपुरा, बांका, सुपौल, जमुई और मधेपुरा जैसे जिलों को रखा गया है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कमाई बढ़ाओ और बढ़िया पोस्टिंग पाओ