DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैलिस चमके, बेंगलुरु रायल चैलेंजर्स नौ विकेट से जीता

कैलिस चमके, बेंगलुरु रायल चैलेंजर्स नौ विकेट से जीता

मैन आफ द मैच जाक कैलिस के आल राउंड प्रदर्शन से बेंगलुरु रायल चैलेंजर्स ने रविवार को यहां दूसरे चैम्पियंस लीग टवेंटी20 टूर्नामेंट के ग्रुप बी के मैच में वेस्टइंडीज की टीम गयाना को 46 गेंद रहते नौ विकेट से हराकर दो अंक हासिल किए।
    
रायल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान अनिल कुंबले ने सुपरस्पोर्ट पार्क में टास जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया, जिसके बाद कैलिस ने चार ओवर में 16 रन देकर तीन विकेट विकेट चटकाए और फिर बल्लेबाजी में कमाल दिखाते हुए 32 गेंद में चार चौके और एक छक्का लगाकर नाबाद 43 रन बनाकर टीम को आसान जीत दिलाई।
    
कैलिस ने शुरू में गुयाना के कप्तान रामनरेश सरवन (07) का महत्वपूर्ण विकेट हासिल कर 16वें ओवर में तीन गेंद के अंदर दो विकेट प्राप्त किए थे, जिससे गयाना की टीम निर्धारित 20 ओवरों में 103 रन के स्कोर पर सिमट गई।
    
इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी बेंगलुरु की टीम ने 12.2 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 106 रन बनाकर जीत दर्ज की। टीम ने एकमात्र विकेट राहुल द्रविड़ के रूप में गंवाया जिन्होंने 34 गेंद में तीन चौके की मदद से 33 रन बनाए।
    
द्रविड़ के बोल्ड होने के बाद रोबिन उथप्पा क्रीज पर उतरे, जिन्होंने आक्रामक रूख अख्तियार करते हुए नौ गेंद में दो चौके और दो गगनचुंबी छक्के जमाकर नाबाद 25 रन जोड़े।

कैलिस के चार ओवर में से एक ओवर मेडन था। उन्हें दो विकेट चटकाने वाले प्रवीण कुमार के अलावा कुंबले, डेल स्टेन और नयन जोशी के रूप में बढ़िया साथ मिला, जिन्होंने एक-एक विकेट हासिल किए। बेंगलुरु के गेंदबाजों ने गयाना के बल्लेबाजों को कहीं भी उबरने का मौका नहीं दिया।

क्रिस्टोफर बार्नवेल ने 35 गेंद में 30 रन जोड़े और टीम की ओर से शीर्ष स्कोरर रहे जबकि इसके बाद सलामी बल्लेबाज सेवानारायण चटरगून ने 18 रन की पारी खेली।

कुंबले का टास जीतकर गेंदबाजी का फैसला बिलकुल सही साबित हुआ क्योंकि उनके तेज गेंदबाज स्टेन और प्रवीण की जोड़ी ने शुरू में पिच पर मिल रही स्विंग की मदद से गुयाना के बल्लेबाजों को कोई मौका नहीं दिया ।
    
गयाना की टीम चौथे ओवर तक एक भी चौका नहीं लग सकी और अगले ओवर में उन्होंने ट्रेविस डाउलिन के रूप में पहला विकेट गंवाया। फाइन लेग पर खड़े क्षेत्ररक्षक स्टेन ने प्रवीण की गेंद पर उनका कैच लपका। इसी ओवर में दूसरे सलामी बल्लेबाज चटरगून को 14 रन के स्कोर पर जीवनदान मिला क्योंकि राहुल द्रविड़ के हाथ से उनका कैच छूट गया था ।

कुंबले ने छठे ओवर में कैलिस को गेंद दी और पहली गेंद पर सरवन ने एक शानदार छक्का जड़ा। लेकिन कैलिस ने खूबसूरत आफ कटर गेंद पर सरवन को आउट किया, जिससे 34 रन पर गयाना के दो बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे।

गयाना की टीम को जहां भी मौका मिला, उसने एक दो रन जुटाए। कैमरोन वाइट भी आठवें ओवर में ऐसे मौके का फायदा उठाने के चक्कर में रन आउट हुए। बेंगलुरु के बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण के आगे वेस्टइंडीज की गयाना का शीर्ष क्रम चरमरा गया और 10 ओवर तक टीम तीन विकेट गंवाकर केवल 54 रन ही बना सकी। अगले 10 ओवर में रन गति को बढ़ाने की उनकी तमन्ना भी पूरी नहीं हो सकी क्योंकि लगातार अंतराल पर विकेट गिरने का सिलसिला जारी रहा।

कुंबले खुद सातवें ओवर में गेंदबाजी करने उतरे और उन्हें 12वें ओवर में नरसिंह देवनारायण (13) के रूप में अपना पहला विकेट मिला जो डीप मिडविकेट पर रास टेलर को कैच दे बैठे। रोएस्टन क्रैंडन (05) 14वें ओवर में आउट हुए जबकि युवा जोनाथन फू ने भी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैलिस चमके, बेंगलुरु रायल चैलेंजर्स नौ विकेट से जीता