DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल खेल गांव के लिए अलग पुलिस थाना

राष्ट्रमंडल खेल गांव के लिए अलग पुलिस थाना

राष्ट्रीय राजधानी में राष्ट्रमंडल खेल के मद्देनजर यहां आने वाले एथलीटों और शिष्टमंडल की ओर से दायर और उनके खिलाफ शिकायतों से निपटने के लिए खेल गांव के लिए एक अलग पुलिस थाना गठित किया जा रहा है।

राष्ट्रमंडल खेल गांव के लिए यह सुविधा एक दो दिनों में खुल जाएगी और यहां उप निरीक्षक रैंक से नीचे के पुलिस कर्मियों को तैनात नहीं किया जाएगा। यह पुलिसकर्मी अंग्रेजी बोलने में दक्ष होंगे। इस दल का नेतृत्व अतिरिक्त पुलिस आयुक्त नीरज ठाकुर करेंगे।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस थाने की स्थापना एथलीटों, उनके परिवार के लोगों और अधिकारियों की ओर से दायर शिकायतों की जांच के लिए की गई है। यहां इनके खिलाफ दर्ज मामलों की भी जांच की जाएगी।

अधिकारी ने कहा कि इस पुलिस थाने की स्थापना दिल्ली पुलिस की अपराधा शाखा के तहत की जाएगी जिसमें अनुभवी, प्रशिक्षित और अंग्रेजी बोलने में दक्ष पुलिसकर्मी होंगे। इस दल में निरीक्षक और उपनिरीक्षण रैंक के कर्मी होंगे। उन्होंने कहा कि इसकी स्थापना का उद्देश्य एथलीटों एवं शिष्टमंडल से जुड़ी शिकायतों का तेजी से निपटारा करना है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल खेल गांव के लिए अलग पुलिस थाना