DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा दी ही नहीं और पास हो गए 62 छात्र

मुन्नाभाई भले ही अपनी जगह दूसरों को परीक्षा में बैठा कर पास हुए हों, लेकिन हिमाचल शिक्षा बोर्ड में 62 छात्र बिना परीक्षा दिए ही पास हो गए हैं। पुलिस ने इस संबंध में दो छात्रों को गिरफ्तार किया है।

लगभग 62 छात्र इस साल बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा में बिना परीक्षा में बैठे ही पास हो गए। इन छात्रों की उत्तर पुस्तिकाएं कथित तौर पर मूल्यांकन स्थलों पर डाक से पहुंची। पुलिस ने इस संबंध में गागल की एक शैक्षणिक अकादमी के मालिक अश्विन डोगरा और एक महिला को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि डोगरा ने इस वर्ष अप्रैल में वार्षिक परीक्षाओं के दौरान 11 अलग-अलग परीक्षा केंद्रों से उत्तर पुस्तिकाएं खरीदीं और उन्हें अपनी अकादमी के 62 छात्रों को दिया। इसके बाद इन उत्तर पुस्तिकाओं को डाक से मूल्यांकन केंद्रों तक पहुंचा दिया गया।

इस खबर की पुष्टि करते हुए एसएसपी कांगड़ा, अतुल फुलझेले ने बताया कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। इसके पहले हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के सचिव प्रभात शर्मा ने एक शिकायत दर्ज कराते हुए कहा था कि इस साल बोर्ड परीक्षाओं में बैठे बिना ही 62 छात्र पास हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षा दी ही नहीं और पास हो गए 62 छात्र