DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंस्पेक्टर सहित कई धोखाधड़ी के आरोप में फंसे

थाना प्रभारी न्यू आगरा, उपनिरीक्षक सहित कई धोखाधड़ी के आरोप में फंस गए हैं। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सभी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर विवेचना के आदेश थाना पुलिस को दिए


अलकापुरी दयालबाग निवासी मांगेलाल ने अधिवक्ता संतोष दीक्षित व भारत भूषण शर्मा के माध्यम से अदालत में मुकदमा दर्ज कराने का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया। इसमें उन्होंने कहा कि पंजाबी बाग निवासी शिवप्रकाश सिंह से आठ लाख रुपये में प्लॉट का एग्रीमेंट उसके पुत्र हरेंद्र सिंह ने कराया था। एक लाख नगद तथा ढाई-ढाई लाख रुपये के दो चेक दिए थे। आरोप है कि शिवप्रकाश व उसके दामाद पंकज सिंह ने छह लाख रुपये हड़पने की नीयत से बैनामा करने से इनकार कर दिया। उसके पुत्र ने मामले की शिकायत थाना प्रभारी बलधारी सिंह से की तो उन्होंने शिवप्रकाश का पक्ष लेते हुए उसे उल्टा हड़का दिया। आला अधिकारियों से शिकायत करने पर इंस्पेक्टर न्यू आगरा, उपनिरीक्षक अखिलेश कुमार मय अधीनस्थों के साथ चार अगस्त की शाम सात बजे उसके प्लॉट पर आए और गाली गलौज तथा मारपीट करने लगे। पुलिस द्वारा दीवार का गेट तुड़वा कर उसके पुत्र नरेन्द्र एवं भांजे जितेन्द्र को गिरफ्तार कर थाने ले गए थे। वहां उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज करा दिया। मांगेलाल को थाने से राहत न मिलने पर उसने न्याय के लिए अदालत की शरण ली। अदालत ने पुलिसकर्मियों व अन्य के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने के आदेश पुलिस को दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंस्पेक्टर सहित कई धोखाधड़ी के आरोप में फंसे