DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैं बस क्रिकेट खेलना चाहता हूं: सचिन

मैं बस क्रिकेट खेलना चाहता हूं: सचिन

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के पास भले ही क्रिकेट दुनिया का 20 साल का लंबा अनुभव हो लेकिन उनका कहना है कि इस खेल के प्रति उनका जज्बा अब भी वैसा ही है जैसा शुरुआती दिनों में था।

मुंबई इंडियंस टीम के कप्तान ने कल शुरू हो रहे चैंपियंस लीग टवेंटी20 टूर्नामेंट से पहले ईएसपीएन स्टार से कहा कि जज्बा कभी खत्म नहीं होता। आप जानते हैं कि मैं क्रिकेट का सबसे ज्यादा सम्मान करता हूं। मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता कि मैं कहां खेल रहा हूं। मैं हमेशा अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता और बेहतर गुणवत्ता का क्रिकेट खेलने पर ध्यान देता हूं। मैंने हमेशा मैदान पर जाकर कड़ी चुनौती पेश करने की कोशिश की।

सचिन ने कहा कि मुंबई के लिए खेलना मेरे लिए हमेशा खास रहा है और भारत के लिए खेलना भी बहुत विशेष रहा। यह मेरा सपना था और मैं इस सपने को जी रहा हूं। जब मुंबई और भारत मिल जाते हैं तो यह मुंबई इंडियंस (टीम) बनती है।

आईपीएल फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स के हाथों मिली मात के बारे में सचिन ने कहा कि वह जीत के लिए लालायित थे जैसे वह हमेशा होते हैं और मेरी तैयारियां वैसी ही हैं। उन्होंने कहा कि कई बार आप रन बनाते हैं और कई बार नहीं लेकिन मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि प्रयास हर बार बराबर होते हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैं बस क्रिकेट खेलना चाहता हूं: सचिन