DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत में अप्पू और ऑस्ट्रेलिया में थे मटिल्डा के चर्चे

भारत में अप्पू और ऑस्ट्रेलिया में थे मटिल्डा के चर्चे

नन्हा सा हाथी अप्पू जहां दिल्ली में हुए 1982 के एशियाई खेलों के दौरान भारतीयों के बीच लोकप्रियता बंटोर रहा था वहीं सात समंदर पार ब्रिसबेन में एक खूबसूरत कंगारू मटिल्डा का चर्चा सभी की ज़ुबां पर था। मटिल्डा 1982 के राष्ट्रमंडल खेलों का शुभंकर था।
    
ब्रिसबेन में 30 सितंबर से नौ अक्टूबर के बीच राष्ट्रमंडल खेल हुए थे जबकि 19 नवंबर से चार दिसंबर के दरमियान दिल्ली में दूसरी बार एशियाई खेलों का आयोजन हुआ था। पूरे भारत पर जहां कुटिटनारायण उर्फ अप्पू का जादू सिर चढ़कर बोल रहा था वहीं ऑस्ट्रेलिया में मटिल्डा की लोकप्रियता भी कुछ कम नहीं थी।
    
मटिल्डा वास्तव में एक कार्टून कंगारू था और स्टेडियम के भीतर तथा दर्शकों के बीच इस चलते फिरते रोबोट ने काफी मशहूरी हासिल की थी। तेरह मीटर उंचे इस कंगारू की यादें आज भी उन लोगों के ज़ेहन में ताज़ा है जो 1982 के राष्ट्रमंडल खेलों के साक्षी रहे।
     
बीजिंग ओलंपिक 2008 से पहले जहां तिब्बतियों के विरोध प्रदर्शन ने पूरी दुनिया का ध्यान खींचा था, वहीं ऑस्ट्रेलिया में आदिवासियों ने 1982 राष्ट्रमंडल खेलों को अपने अधिकारों की लड़ाई का मंच बनाया। बड़े पैमाने पर हुए इस विरोध प्रदर्शन में भले ही कई गिरफ्तारियां हुई लेकिन इसने अंतरराष्ट्रीय मीडिया का ध्यान खींचने में कामयाबी ज़रूर हासिल की।

बारहवें राष्ट्रमंडल खेलों की मेज़बानी ब्रिसबेन को तब मिली जब लागोस (नाइजीरिया), कुआलालम्पुर (मलेशिया), और बर्मिंघम (इंग्लैंड) ने नाम वापिस ले लिया था। मांट्रियल में 1976 में हुए ओलंपिक खेलों के बाद मेज़बान का फैसला किया गया था।
  
अपनी सरज़मीं पर हुए इन खेलों में ऑस्ट्रेलिया ने 39 स्वर्ण पदक जीतकर बाजी भले ही मार ली हो लेकिन इंग्लैंड ने उसे कांटे की टक्कर दी। ऑस्ट्रेलिया ने 39 स्वर्ण, 39 रजत और 29 पदक जीतकर पहला स्थान हासिल किया जबकि इंग्लैंड 38-38 स्वर्ण और रजत और 32 कांस्य समेत 108 पदक लेकर दूसरे स्थान पर रहा।
    
कनाडा के नाम 82 पदक थे जिनमें 26 स्वर्ण शामिल हैं। स्कॉटलैंड और न्यूज़ीलैंड को 26 पदक मिले। भारत 16 पदक लेकर छठे स्थान पर रहा। इनमें पांच स्वर्ण, आठ रजत और तीन कांसे के पदक थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत में अप्पू और ऑस्ट्रेलिया में थे मटिल्डा के चर्चे