DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कीमतों में इजाफा से खाद्य मुद्रास्फीति बढ़कर 11.47 प्रतिशत

कीमतों में इजाफा से खाद्य मुद्रास्फीति बढ़कर 11.47 प्रतिशत

मानसून के दौरान मालों की आपूर्ति बाधित होने से कीमतों में हुई वृद्धि से गत 28 अगस्त को समाप्त सप्ताह में थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित खाद्य पदार्थों की मुद्रास्फीति 0.61 प्रतिशत बढ़कर 11.47 प्रतिशत पर पहुंच गई।

गुरुवार को यहां जारी आधिकारिक जानकारी के अनुसार इससे पिछले सप्ताह में यह 10.86 प्रतिशत पर रही थी। आलोच्य अवधि में खाद्य पदार्थों के सूचकांक में 0.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। इस समूह में शामिल मछली की कीमतों में 19 प्रतिशत की भारी उछाल हुई। बाजरे की कीमत भी एक प्रतिशत बढ़ गई। हालांकि इस समूह में शामिल मूंग की कीमत दो प्रतिशत उड़द अरहर फल एवं सब्जियों तथा काफी की कीमतों में एक एक प्रतिशत की गिरावट रही।

कच्चे रबड़ की कीमत में 10 प्रतिशत कच्चे जूट में छह प्रतिशत कच्चा सिल्क चार प्रतिशत सरसों और नारियल की कीमतों में एक एक प्रतिशत की कमी आने से आलोच्य अवधि में गैर खाद्य पदार्थों के समूह के सूचकांक में 0.6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि बिनौला मूंगफली और तंबाकू की कीमतों में एक एक प्रतिशत की तेजी रही है।

प्राथमिक वस्तुओं के समूह का सूचकांक 0.5 प्रतिशत बढ़ गया जबकि ईधन पावर लाइट और ल्यूब्रिकेंट्स समूह का सूचकांक पिछले सप्ताह के 12.71 प्रतिशत के स्तर पर टिका रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कीमतों में इजाफा से खाद्य मुद्रास्फीति बढ़कर 11.47 प्रतिशत