DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चैम्पियंस-लीग : 10 टीमों के बीच शुक्रवार से श्रेष्ठता की जंग

चैम्पियंस-लीग : 10 टीमों के बीच शुक्रवार से श्रेष्ठता की जंग

शोहरत की बुलंदियों को छू चुकी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बाद विश्व क्रिकेट की सबसे लोकप्रिय गैर आधिकारिक  ट्वेंटी-20 प्रतियोगिता चैम्पियंस लीग के दूसरे संस्करण का शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका में आगाज़ होगा।

वर्ष 2009 में आयोजित पहले संस्करण में कुल 12 टीमों ने हिस्सा लिया था लेकिन इस बार इस रोमांचक आयोजन में कुल 10 टीमों के बीच श्रेष्ठता की जंग होगी। दूसरे संस्करण का पहला मैच 10 सितंबर को जोहांसबर्ग के न्यू वांडर्स स्टेडियम में आईपीएल की मुंबई इंडियंस और दक्षिण अफ्रीका के हाईवेल्ड लायंस क्लबों के बीच खेला जाएगा। इसका खिताबी मुकाबला 26 सितंबर को इसी मैदान पर होगा।

पिछले वर्ष ऑस्ट्रेलियाई टीम न्यू साउथ वेल्स ने ब्रेट ली के हरफनमौला प्रदर्शन के बूते फाइनल में वेस्टइंडीज़ की घरेलू चैम्पियन टीम त्रिनिदाद एवं टोबैगो को हराकर खिताब जीता था। ली ने फाइनल मैच में दो विकेट लेने के अलावा 31 गेंदों पर पांच छक्कों की मदद से 48 रन बनाए थे।

चैम्पियंस लीग के दूसरे संस्करण में न्यूजीलैंड से सेंट्रल डिस्ट्रिक्स स्टैग्स, भारत से चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस और बेंगलोर रॉयल चैलेंजर्स, वेस्टइंडीज़ से गयाना, दक्षिण अफ्रीका से लायंस और वारियर्स, ऑस्ट्रेलिया से साउथ ऑस्ट्रेलिया और विक्टोरिया तथा श्रीलंका से वायंबा की टीमें हिस्सा ले रही हैं।

इस बार इंग्लैंड की कोई क्लब टीम चैम्पियंस लीग में नहीं खेल रही है। साथ ही साथ इस बार पिछले वर्ष की चैम्पियन टीम न्यू साउथ वेल्स को इस आयोजन में खेलने का हक नहीं मिल सका है। ज़ाहिर तौर पर क्रिकेट के प्रशंसक मौजूदा चैम्पियन टीम की कमी महसूस करेंगे।

10 टीमों को पांच-पांच के दो ग्रुप में विभाजित किया गया है। ग्रुप-ए में चेन्नई सुपर किंग्स, वारियर्स, विक्टोरिया, सेंट्रल डिस्ट्रिक्स और वायंबा को रखा गया है जबकि ग्रुप बी में मुंबई इंडियंस, लायंस, साउथ ऑस्ट्रेलिया, रॉयल चैलेंजर्स और गयाना की टीमें हैं। वर्ष 2009 में 12 टीमों को तीन अलग-अलग ग्रुप में बांटा गया था।

इस दफे पिछले बार की उविजेता त्रिनिदाद की टीम भी नहीं है। इसका कारण यह है कि वेस्टइंडीज़ में इस बार गयाना की टीम ने ट्वेंटी-20 खिताब जीता है। ऐसे में आईपीएल-3 का खिताब जीतने वाली महेंद्र सिंह धोनी की सुपर किंग्स टीम के पास चैम्पियन बनने का सुनहरा मौका है।

चैम्पियंस लीग में पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी आईपीएल की तीन टीमें शिरकत कर रही हैं। मुंबई इंडियंस के कप्तान के तौर पर सचिन तेंदुलकर जहां दक्षिण अफ्रीकी मैदानों की शोभा बढ़ाएंगे वहीं रॉयल चैलेंजर्स टीम के मालिक उद्योगपति विजय माल्या अपने पूरे लाव-लश्कर के साथ दक्षिण अफ्रीका में मौजूद रहेंगे।

दक्षिण अफ्रीका विश्व खेल जगत के एक प्रमुख आयोजन के रूप में उभरा है। जून में यहां फीफा विश्वकप आयोजित किया गया था और अब यहां के मैदान चैम्पियनों की भिड़ंत का गवाह बनने के लिए तैयार हैं। चैम्पियंस लीग-2010 के मैच सेंचुरियन, डरबन, जोहांसबर्ग और पोर्ट एलिज़ाबेथ में खेले जाएंगे।

वर्ष 2009 में चैम्पियंस लीग के अंतर्गत 60 लाख डॉलर की पुरस्कार राशि दांव पर थी। साउथ वेल्स टीम को 25 लाख डॉलर मिले थे जबकि त्रिनिदाद को 13 लाख डॉलर। इस बार भी विजेता और उपविजेता टीमों को इतनी ही पुरस्कार राशि मिलेगी।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने कहा है कि आने वाले दिनों में यह आयोजन उसके फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) में जगह पा सकता है। ऐसे में इस आयोजन का महत्व काफी अधिक बढ़ गया है और इस कारण अधिक से अधिक प्रायोजक इसके साथ जुड़ना चाहते हैं। इसकी लोकप्रियता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ईएसपीएन-स्टार ने इसके एक संस्करण के वैश्विक प्रसारण के लिए 10 साल के लिए आईसीसी को 97.5 करोड़ डॉलर दिए हैं।

चैम्पियंस लीग-2010 के मैच भारतीय समयानुसार शाम पांच बजे से और रात नौ बजे से खेले जाएंगे। इनका प्रसारण ईएसपीएन और स्टार क्रिकेट चैनलों पर होगा। आयोजकों ने इसे सफल बनाने के लिए बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन को अपना एंबेस्डर बनाया है। अपने हास्य प्रधान विज्ञापनों के ज़रिए अमिताभ इस आयोजन को सफल बनाने के प्रयास में पूरी शिद्दत से जुटे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चैम्पियंस-लीग : 10 टीमों के बीच शुक्रवार से श्रेष्ठता की जंग