DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिंकी की मुस्कान

ल तक जिस पिंकी को देखकर लोग नाक-भौं सिकोड़ते थे, साथियों के मजाक उड़ाने के कारण वह स्कूल नहीं जा पाती थी, आज उसी पिंकी की मुस्कान पूर विश्व में चर्चा का विषय बनी हुई है। ‘स्माइल पिंकी’ की मुस्कराहट ऐसे लोगों के लिए अच्छी खबर है, जो इस बात से अनजान थे कि कटे होठों का इलाज संभव है। उत्तर प्रदेश में मिर्जापुर के छोटे से गांव रामपुर डबही की आठ वर्षीय पिंकी का होठ कटा होने के कारण उसे सामाजिक बहिष्कार का सामना करना पड़ा। उसका भाग्य तब बदलता है, जब एक समाजसेवक गांव-गांव घूमकर ऐसे रोगियों का नि:शुल्क ऑपरेशन कराता है। भोजपुरी और हिन्दी में बनी 3मिनट की डाक्यूमेंट्री ‘स्माइल पिंकी’ ने ऑस्कर के द्वार पर दस्तक देकर लोगों की आंखें खोल दीं। अंग-विकृति से ग्रस्त बच्चों पर आधारित इस फिल्म ने दिखा दिया कि 45 मिनट के साधारण ऑपरशन से इस विकृति को दूर किया जा सकता है। इससे न केवल नई मुस्कान बल्कि नया जीवन पाया जा सकता है। भारत में एसे अनेक बच्चे हैं, जिनके होठ कटे हुए होते हैं। एसे ज्यादातर लोग गरीब हैं, जिन्हें इस बात की जानकारी ही नहीं है कि इसका इलाज भी हो सकता है। उन्हें कदम-कदम पर अपमान सहना पड़ता है, उनका मजाक उड़ाया जाता है। एसे में वे सबसे अलग-थलग पड़कर जिंदगी गुजार देते हैं। कटे होठ वाली लड़कियों की अगर किसी तरह शादी हो जाए तो ससुराल में भी उन्हें अपमान का घूंट पीना पड़ता है। लेकिन ‘स्माइल पिंकी’ ने एसे रोगियों के मन में आशा की किरण जगाई है कि उनका भाग्य भी बदल सकता है। इसका श्रेय फिल्मकार मेगन माइलन को तो जाता ही है, ‘स्माइल ट्रेन’ नामक उस संस्था को भी है, जो कटे होठ वाले बच्चों की मदद कर उनके मायूस जीवन में खुशियां ला रही है। विश्व की सबसे बड़ी इस परोपकारी संस्था का लक्ष्य विकासशील देशों के 30 लाख एसे बच्चों की मदद करना है। सन् 2000 से अब तक 30000 ऑपरशन कर चुकी इस संस्था का मानना है कि केवल 45 मिनट में बच्चों के कटे होठों को न केवल मुस्कुराहट दी जा सकती है, बल्कि उन्हें नया जीवन भी दिया जा सकता है। िंपंकी की मुस्कान समाज में जागरूकता तो लाई है, लेकिन अच्छा हो कि स्वास्थ्य से जुड़ी एजेंसियां और स्वयं सेवी संगठन इससे प्रेरणा भी लें, ताकि एसी अनेक पिंकियों के चेहर मुस्कुरा सकें। ऑस्कर में जाने पर ही खुश होना काफी नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पिंकी की मुस्कान