DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'राष्ट्रमंडल खेलों को लेकर दुनिया की निगाहें भारत पर'

फिल्मकार करन जौहर दिल्ली के बुनियादी ढांचे से प्रभावित हैं और उम्मीद जताते हैं कि राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन सफल रहेगा और इससे भारत को दुनियाभर में उसकी साख बनाने में मदद मिलेगी।

करन पिछले सप्ताह दिल्ली में एक स्टोर 'द कलेक्टिव' की शुरुआत के अवसर पर यहां आए थे। करन ने कहा था कि उन्होंने अपनी हाल की यात्राओं के दौरान दिल्ली में हो रहे विकास पर ध्यान दिया है।

उन्होंने कहा, ''मैंने अपनी पिछली दो यात्राओं के अलावा वास्तव में कभी भी दिल्ली के शॉपिंग मॉल वाले हिस्से के अलावा और किसी चीज पर ध्यान नहीं दिया था लेकिन मैंने जो देखा उसके आधार पर कह सकता हूं कि शहर में बहुत परिवर्तन हुआ है।

मैं हमेशा सोचता था कि दिल्ली का बुनियादी ढांचा मजबूत है और यहां धीरे-धीरे विकास हो रहा है। यहां की यात्रा करना और यहां के विकास को अनुभव करना बहुत अच्छा है।''

राष्ट्रीय राजधानी में तीन से 14 अक्टूबर तक राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन होना है। करन कहते हैं, ''यह एक अंतर्राष्ट्रीय मंच है और राष्ट्रमंडल खेलों को लेकर सभी की निगाहें भारत पर हैं। मैं उम्मीद और प्रार्थना करता हूं कि हम इस आयोजन को दुनिया में आगे बढ़ने के एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखेंगे न कि इससे पीछे होंगे।''

अड़तीस वर्षीय करन ने 'कुछ कुछ होता है', 'कभी खुशी कभी गम' और 'कभी अलविदा ना कहना' जैसी महत्वपूर्ण और लोकप्रिय फिल्में बनाई हैं। हाल ही में उनकी करीना कपूर, काजोल और अर्जुन रामपाल अभिनीत फिल्म 'वी आर फेमली' प्रदर्शित हुई है।

करन की अगली फिल्म 1991 में आई अमिताभ बच्चान की 'अग्निपथ' की रीमेक होगी। इसके अलावा वह इमरान खान और करीना कपूर की मुख्य भूमिका वाली एक और फिल्म बना रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'राष्ट्रमंडल खेलों को लेकर दुनिया की निगाहें भारत पर'