DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रमजान में शिक्षा देने विदेश जा रहे हैं धार्मिक गुरु

रमजान के पवित्र माह में नवाबों के शहर लखनऊ के शिया और सुन्नी मौलानाओं की धार्मिक तकरीर सुनने के लिए लखनऊ में तो उनके अनुयायी जुटते ही हैं, इन भारतीय धार्मिक गुरुओं की इल्म और तकरीर विदेशो में भी काफी लोकप्रिय हो रही है।

मौलाना यासिर अब्बास ने बताया कि प्रदेश के मौलानाओं की हिन्दुस्तान से बाहर रह रहे मुस्लिम लोगों के बीच अब काफी पैठ हो गयी है और बाहर के देशो में रह रहे मुसलमान रमजान के पवित्र महीने में अपने धर्म को अच्छी तरह से समझने के लिए भारतीय मौलाना का सहारा ले रहे हैं।

उन्होंने बताया कि लखनऊ के मुस्लिम धार्मिक गुरु अपने इल्म को बांटने के लिए जहां विदेशो की यात्रा कर रहे हैं, तो मुस्लिम देशो विशेषकर खाड़ी देशो में भी इन धार्मिक गुएरुओं के ज्ञान को सुनने वालो की संख्या कम नहीं है। अब्बास ने बताया कि रमजान के महीने में लोग अपने काम काज से थोड़ा मुतयइन रहते हैं और उनका ध्यान अल्लाह की इबादत में ज्यादा रहता है इसीलिए वे धर्म गुरुओं की बातों को बड़े गौर से सुनते हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश और विशेषकर लखनऊ के धर्म गुरुओं की पूछ विदेशों मे ज्यादा है क्योंकि इनको कुरान और धर्म के बारे में काफी जानकारी रहती है तथा यह अपनी बात को विदेश में रह रहे मुस्लिम भाइयों को अच्छी तरह समझा सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रमजान में शिक्षा देने विदेश जा रहे हैं धार्मिक गुरु