DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (07 सितंबर, 2010)

प्रधानमंत्री ने कहा कि चिंता की बात नहीं, कॉमनवेल्थ की तैयारी समय पर पूरी होगी। संभव है हम गलत नजरिये से देखते आए हों। सो, चलिए चश्मा बदलकर देखें और खेल को खेल की भाषा में समझें।

यदि आप क्रिकेटप्रेमी हैं तो बखूबी जानते होंगे कि किसी नीरस मैच को रोमांचक बनाने में भारतीयों को महारत हासिल है, बस धड़ाधड़ दो-चार विकेट गिरने की ही तो बात होती है।

ऑस्ट्रेलिया के कॉमनवेल्थ टीम प्रमुख शायद भारतीयों को ठीक पहचानते हैं। उन्होंने कहा-भारतीयों को देर से काम करने की आदत है.. चिंता की बात नहीं..सब समय पर हो जाएगा। वाकई, सबकुछ ढर्रे पर चलता तो क्या पब्लिक बोर नहीं हो जाती? और फिर इतनी पब्लिसिटी मिलती क्या? तो फिर होठों को गोलकर सीटी बजाएं और कहें-आल इज वेल।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (07 सितंबर, 2010)