DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाउस होल्ड सर्वे में देरी पड़ी महंगी

सरकारी स्कूलों में स्कूल छोड़ने वाले बच्चों की जानकारी इकठ्ठा करने के लिए शुरू हुआ हाउस होल्ड सर्वे बेसिक शिक्षा विभाग की परेशानी का सबब बनता जा रहा है। शासन द्वारा तय 31 अगस्त की डेडलाइन के बाद भी सर्वे अभी तक पूरा नहीं हो सका है। जबकि 5 सितम्बर तक सर्वे की रिपोर्ट लखनऊ भेजी जानी थी। सिम्भावली ब्लाक व पिलखुवा से सर्वे की रिपोर्ट न आने को विभाग ने गंभीरता से लिया है। सर्वे में देरी पर एबीएसए सिम्भावली व नगर शिक्षा अधिकारी पिलखुवा को चेतावनी जारी की गई है।

वहीं एक दिन के अंदर सर्वे पूरा करके न देने पर कड़ी विभागीय कार्रवाई का दोनों को सामना करना पड़ सकता है। शासन के निर्देश पर इस बार बेसिक शिक्षा विभाग का हाउस होल्ड सर्वे 1 अगस्त से शुरू हुआ था। जिसे पूरा करने की पहले समयसीमा 15 अगस्त रखी गई थी। मगर सर्वे पूरा न होने पर इसे बढ़ाकर 20 अगस्त कर दिया गया। इसके बाद सर्वे की रिपोर्ट तैयार कर सभी एबीएसए व अन्य अधिकारियों को 26 अगस्त तक बीएसए कार्यालय में जमा करनी थी। जिससे सर्वे की सूचियों की डाटा फीडिंग हो सके।

इसे भी बाद में बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया। सर्वे में लापरवाही की मिशाल पेश करते हुए सिम्भावली व पिलखुवा ने अब तक सर्वे की रिपोर्ट कार्यालय में जमा नहीं की है। जिसे विभागीय अफसरों को कड़ाई से लिया है। सामुदायिक शिक्षा के जिला समन्वयक पवन कुमार भाटी ने बताया कि लगभग सभी ब्लाकों में हाउस होल्ड सर्वे पूरा हो चुका है। लेकिन सिम्भावली व पिलखुवा ने अभी तक सर्वे की रिपोर्ट जमा नहीं की है। शासकीय काम में देरी होने की वजह से एबीएसए सिम्भावली व नगर शिक्षा अधिकारी पिलखुवा को चेतावनी जारी की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हाउस होल्ड सर्वे में देरी पड़ी महंगी