DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेट्रो फीडर बसों के रुट्स की समीक्षा करेगा रोडवेज

दिल्ली मेट्रो की लोकप्रियता को देखते हुए रोडवेज ने फीडर बस सेवा को पुन: समीक्षा करने का निर्णय लिया है। इसके तहत रोडवेज अब अपनी बस सेवा को मेट्रो हुडा सिटी सेंटर से शुरू करेगा। यही से शहर के विभिन्न जगहों के लिए फीडर बसें मिलेगी।

शहरवासियों को अभी तक शहर के 6 रुट्स पर रोडवेज की फीडर बस सेवा चल रही हैं। लेकिन, बसों के रुट्स में खामियों की भरमार होने के कारण यात्राियों का इस ओर रुझान न के बराबर है। पहले अधिकारियों ने यात्राियों की कमी के कारण इस ओर ध्यान नहीं दिया। लेकिन, जिस तरह से हुडा सिटी सेंटर पर मेट्रो की पाíकंग के लिए भारी भीड़ उमड़ रही, उसे देखते हुए आने वाले दिनों में यह संख्या और अधिक रहने की आशा है। इसे देखते हुए रोडवेज अपनी सेवाओं को बेहतर कराना चाहता है। मेट्रो के दिल्ली-गुड़गांव रुट पर  एक लाख 80 हजार से अधिक लोग प्रतिदिन यात्रा कर रहे हैं।

जीएम यशवेन्द्र सिंह ने बताया कि मेटो के पूरी तरह से संचालन से यात्राियों की संख्या में भारी इजाफा हुआ है। इसे देखते हुए हम अपनी सेवाओं में और अधिक बेहतर करने की योजना बना रहे है। इसके लिए रोडवेज हुडा सिटी सेंटर या फिर सिंकन्दर पुर से फीडर बस सेवा शुरू करना चाहते हैं। यहां पर बसें खड़ी रहेगी और मेट्रों के फ्रि क्वेंसी को देखते हुए प्रयोग के तौर पर चलाई जाएगी। गौरतलब है कि अभी रोडवेज की बसें किसी भी मेट्रो स्टेशन से न चलकर एक तहर से रिंग की तरह घूमती रहती है। इससे यात्राियों को समय से बस नहीं मिल पाती और दस मिनट की दूरी आधे घंटे में पूरी हो पाती है। इससे यात्राी ङोल जाते है और मजबूरी में थ्री व्हीलर में बैठना मुनासिब समझते है। इससे रोडवेज की बसें अक्सर खाली रह जाती है। इससे रोडवेज को आर्थिक नुकशान हो रहा है। फिलहाल दस बसें 6 रूटों पर चलती हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेट्रो फीडर बसों के रुट्स की समीक्षा करेगा रोडवेज