DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुझे ब्लैकमेल किया गया : हमीद

मुझे ब्लैकमेल किया गया : हमीद

अपने साथी खिलाड़ियों के खिलाफ मैच फिक्सिंग के आरोप लगाने के बाद वापस लेने वाले सलामी बल्लेबाज़ यासिर हमीद ने दावा किया कि उन्हें यह बयान देने के लिए फंसाया गया और बाद में उन्हें अडिग रहने के लिए ब्लैकमेल किया गया।
    
ब्रिटिश टेब्लॉयड द न्यूज़ ऑफ द वर्ल्ड द्वारा जारी बयान में हमीद को यह आरोप लगाते देखा गया कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने लगभग हर मैच फिक्स किया।
    
बाद में उसने इस बात से इंकार किया कि उसने टेब्लॉयड को कोई इंटरव्यू दिया था। उसने कहा कि प्रायोजकों के एजेंट के रूप में उससे बात करने वाले अंडरकवर रिपोर्टर ने उसे धमकीभरे संदेश भेजकर अपने बयान पर बने रहने को कहा था।
    
हमीद को रविवार को इंग्लैंड में पाकिस्तान उच्चायोग ने उच्चायुक्त वजीद शमसुल हसन से मुलाकात के लिए तलब किया था।
     
बैठक के बाद पीसीबी के कानूनी सलाहकार तफज्जुल रिज़वी ने हमीद की ओर से जारी बयान में कहा कि उसे पैसे की पेशकश की गई थी और बाद में बयान पर बने रहने के लिए ब्लैकमेल किया गया। उसने कहा कि उसकी जानकारी के बिना बयान दिखाया गया।
     
हमीद ने कहा कि मैं न्यूज़ ऑफ द वर्ल्ड द्वारा मेरे हवाले से दिखाए गए बयान का जवाब देना चाहूंगा। मैं ज़ोर देकर कहता हूं कि न्यूज़ ऑफ द वर्ल्ड से जुड़े किसी भी व्यक्ति ने मुझसे संपर्क नहीं किया और ना ही मैंने पाकिस्तानी क्रिकेट टीम या किसी अन्य खिलाड़ी पर कोई आरोप लगाए।

हमीद ने दावा किया कि वह नॉटिंघम में हालीडे इन में अपने दोस्तों के साथ 30 अगस्त को डिनर कर रहा था। उसने कहा कि एक व्यक्ति ने अपना नाम आबिद खान बताकर एतिहाद एयरवेज़ से उसके लिए प्रायोजन करार जुटाने की पेशकश की।
     
उसने कहा कि मैंने अब उस तथाकथित आबिद खान की तस्वीर देखी और मुझे पता चल गया कि वह मज़हर महमूद (न्यूज़ ऑफ द वर्ल्ड का अंडरकवर रिपोर्टर) है। उसने कहा कि स्वाभाविक है कि मेरी उसकी बातों में दिलचस्पी थी और बातचीत का सिलसिला आगे बढ़ा। उसने मुझे कम से कम 50000 पाउंड की पेशकश की। इसके तहत बल्ले के पिछले हिस्से पर एतिहाद का छह गुना तीन इंच का स्टीकर चिपकाना था और टीवी तथा बिलबोर्ड विज्ञापनों में शिरकत करनी थी।
     
हमीद ने कहा कि उसने मुझसे चार खिलाड़ियों के नाम लेने को कहा जो करार में दिलचस्पी रख सकते हों। मैंने उमर गुल, शाहिद अफरीदी, उमर अकमल और फवद आलम के नाम लिए। उसने कहा कि मैंने उमर गुल को इसी बीच फोन करके इस करार के बारे में बताया और वह राज़ी हो गया।
    
उसने कहा कि फिर आबिद ने मुझसे ताज़ा मैच फिक्सिंग आरोपों के बारे में पूछना शुरू किया। मैंने दोस्त और भावी एजेंट समझकर उसके सवालों का जवाब देना शुरू कर दिया। उसने पूछा कि क्या मुझे तीन पाकिस्तानी क्रिकेटरों पर लगाए गए आरोपों की जानकारी है तो मैंने कहा कि मैं वही कह सकता हूं जो अखबार में पढ़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुझे ब्लैकमेल किया गया : हमीद