DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खल रही है टैलेंट की कमी

खल रही है टैलेंट की कमी

फिल्म इंडस्ट्री में अब ऐसे लेखकों की कमी खल रही है, जो अपनी प्रतिभा के बल पर कुछ नया दे सकें। आज की फिल्में वही घिसा-पिटा मसाला परोस कर दर्शकों को नहीं लुभा पा रही हैं। ऐसे में फिल्म निर्माता और निर्देशक हॉलीवुड फिल्मों के रीमेक की तरफ अपनी रुचि दिखाने लगे हैं। इन्हीं वजहों पर फिल्म निर्माता करण जौहर ने अपने एक बयान में कहा है- ‘लिखने के मामले में हम लोग गरीब होते जा रहे हैं, क्योंकि हम अपने लेखकों को सशक्त नहीं बना पाते।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खल रही है टैलेंट की कमी