DA Image
29 मई, 2020|11:25|IST

अगली स्टोरी

फेडरर का अभियान जारी जोकोविच हुए विदा

तीन बार के पूर्व चैंपियन रोजर फेडरर ने मंगलवार को यहां अर्जेंटीना के युआन मार्टिन डेल पोट्रो को रौंदते हुए ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल में जगह बनाने के साथ ही अपने 14वें ग्रैंड स्लैम खिताब की ओर एक और कदम बढ़ा दिया लेकिन गत चैंपियन नोवाक जोकोविच को निराशाजनक ढंग से विदा होना पड़ा। महिला वर्ग में स्थानीय स्टार खिलाड़ी जेलना डोकिच का स्वप्निल अभियान क्वार्टर फाइनल में ही थम गया। डोकिच को रूस की दिनारा सफीना ने हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। उनकी हमवतन वेरा ज्वोनारेवा भी अंतिम चार में पहुंचने में सफल रहीं। दूसरी वरीयता प्राप्त स्विट्जरलैंड के फेडरर ने पुरूष वर्ग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में अर्जेंटना के युआन मार्टिन डेल पोट्रो को लगातार सेटों में 6-3, 6-0, 6-0 से करारी मात दे दी। अब वह यहां पर अपना चौथा खिताब जीतने से सिर्फ दो कदम दूर रह गए हैं। इस मैच में दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी फेडरर का इस कदर वर्चस्व रहा कि आठवीं वरीयता प्राप्त डेल पोट्रो केवल तीन गेम ही जीत सके। सिर्फ 80 मिनटों में ही यह मैच निपटाकर फेडरर लगातार 1वीं बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गए। लेकिन गत वर्ष उन्हें सेमीफाइनल में हराने वाले जोकोविच इस बार निराशाजनक तरीके से खिताबी दौड़ से बाहर हो गए। तीसरी वरीयता प्राप्त जोकोविच को क्वार्टर फाइनल में सातवीं वरीयता प्राप्त एंडी रॉडिक के खिलाफ अपना मैच थकान के कारण अधूरा छोड॥कर हटना पड़ा। उस समय वह 7-6, 4-6 2-6, 1-2 से पीछे चल रहे थे। जोकोविच को पहली बार परेशानी का अहसास तीसरे सेट में हुआ जिसके बाद उन्हें चिकित्सा मदद भी दी गई। चौथे सेट के तीसरे गेम में जोकोविच थकान के कारण दोबारा परेशानी महसूस करने लगे और उन्होंने मैच बीच में ही छोड़ने का ऐलान कर दिया। उन्होंने इसे बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि अपने खिताब की रक्षा करने में इस तरह नाकाम होने से मुझे काफी निराशा हुई है। मैंने अपनी तरफ से मैच आगे खेलने की भरसक कोशिश की। लेकिन कई बार आपको अपने शरीर के आगे बेबस होना पड़ता है। इस स्थिति में अमरीका के रॉडिक को सेमीफाइनल में आसानी से प्रवेश मिल गया। उधर महिला वर्ग में तीसरी वरीयता प्राप्त सफीना ने तीन वरीयता प्राप्त खिलाड़ियों को चौंकाते हुए यहां तक पहुंची डोकिच को 6-4, 4-6, 6-4 से हराकर उनका सफर रोक दिया। इस मुकाबले में डोकिच ने सफीना को कड़ी टक्कर दी लेकिन नाजुक मौकों पर वह पिछड़ गईं। सफीना की सेमीफाइनल में भिड़ंत ज्वोनारेवा से होगी। सातवीं वरीयता प्राप्त ज्वोनारेवा ने फ्रांस की मैरियन बार्तोली को लगातार सेटों में 6-3, 6-0 से हराकर पूरी शान से सेमीफाइनल में जगह बना ली। इस मैच का फैसला सिर्फ 68 मिनटों में ही हो गया। हालांकि 16वीं वरीयता प्राप्त बार्तोली ने पहले सेट में एक समय 3-1 की बढ़त ले ली थी लेकिन उसके बाद वह पूरे मैच में एक भी गेम नहीं जीत सकीं। ज्वोनारेवा भी बार्तोली के प्रदर्शन में अचानक आई इस गिरावट की वजह नहीं समझ सकीं। उधर सौ साल में पहली बार यहां पड़ रही भीषण गर्मी का असर ऑस्ट्रलियाई आपन में खिलाड़ियों पर भी नजर आया और गत चैम्पियन नावाक जाकाविच न मंगलवार को एंडी रॉडिक क खिलाफ टनिस कार्ट छाड़ दिया। जाकाविच का क्वार्टर फाइनल में रॉडिक स भिड़ना था लकिन 35 डिग्री सल्सियस तापमान का वह सामना नहीं कर सक। इसस पहल बलारूस की विक्टारिया अजारेंका भी सरना विलियम्स क खिलाफ मैच क दौरान बीमार हा गई थी। अजारेंका न रात हुए कार्ट छाड़ा। मौसम विभाग न गुरुवार का पारा 42 डिग्री तक पहुंचन की आशंका जताई है। 108 क बाद स यहां एसा पहली बार हुआ है जब लगातार चार दिन इतनी भीषण गर्मी पड़ी हा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: फेडरर का अभियान जारी जोकोविच हुए विदा