DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डेंगू से बचाव के लिए स्टेडियमों में छिड़का जाएगा पायरेथरायड

डेंगू की बीमारी बढ़ने के कारण राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने वाले देशों में दहशत पैदा होने के कारण स्थानीय प्राधिकरण ने अब स्टेडियमों पर विशेष रसायन का छिड़काव करने का फैसला किया है जो तीन महीने तक मच्छरों को करीब भी नहीं फटकने देगा।

दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) मच्छरों को दूर रखने के लिये पहली बार सिंथेटिक पायरेथरायड का इस्तेमाल करेगा। एमसीडी की जन स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष वी के मोंगा ने कहा कि खेल गांव के सभी कमरों की दीवारों के साथ ही शहर के अन्य 21 खेल और अभ्यास स्थलों पर इसका छिड़काव किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि एक बार इसका छिड़काव करने के बाद मच्छर तीन महीने तक दूर रहते हैं। एमसीडी मुंबई स्थित निजी कंपनी से इसका सामान खरीद रही है। मोंगा ने कहा हमने पर्याप्त मात्रा में रसायन खरीद लिया है और अधिक रसायन के लिये आर्डर दे दिये हैं। इसके छिड़काव की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। पायरेथरायड का मच्छरों से बचाव के लिये तुर्की, दक्षिण अफ्रीका ओर मैक्सिको जैसे देशों में इस्तेमाल किया जाता है। इस रंगहीन रसायन को आम तौर पर मनुष्यों के लिये हानिकारक नहीं माना जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डेंगू से बचाव के लिए स्टेडियमों में छिड़का जाएगा पायरेथरायड