DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

104 एफएम पर छाएगा रामायण का फीवर

104 एफएम पर छाएगा रामायण का फीवर

जब कानों के पास गूंजे रामकथा और उतर जाए मन में। हम मन ही मन रामकथा के रस में लीन होते चले जाएं और रामायणमय महसूस करने लगें। फीवर 104 एफएम आपको रामकथा के उसी आनन्द से सराबोर करने के लिए ही ला रहा है ‘रामायण’। इसका नाम रखा गया है ‘फीवर रेडियो रामायण’ और आने वाले 13 सितम्बर से आप हर हफ्ते रामकथा के इस रस का परम आनन्द प्राप्त कर सकते हैं। सत्य सिंधु की रिपोर्ट।

हरि अनन्त हरि कथा अनन्ता,
कहहि सुनहि जेहि विधि सब संता।
राम सिया राम सिया राम जय जय राम।

ये पंक्तियां विभिन्न रूपों में हरि यानी राम की कथा की लोकप्रियता को अभिव्यक्ति प्रदान करती है। संत बाल्मीकि की रामकथा रामायण के बाद संत तुलसीदास की रामकथा यानी रामचरित मानस लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हुई। उसके बाद प्रख्यात फिल्म निर्माता रामानन्द सागर ने रामायण के भव्य स्वरूप को टीवी के माध्यम से देश के कोने-कोने तक पहुंचाया। और अब हिन्दुस्तान टाइम्स मीडिया लि. का फीवर 104 एफएम इस इलेक्ट्रॉनिक युग में राम को हर किसी के पास पहुंचाने के लिए कमर कस चुका है। आज के युग में मोबाइल के माध्यम से हर हर व्यक्ति तक पहुंच रखने वाले, एफएम रेडियो के जरिये लोगों तक पहुंचाने के लिए ला रहा है ‘फीवर रेडियो रामायण’।

आगामी 13 सितम्बर से शुरू होने जा रहे इस प्रसारण में श्रोता हर सोमवार सुबह 7 बजे रामकथा सुन सकेंगे। नामचीन फिल्म अभिनेता नसीरुद्दीन शाह, अनुपम खेर और ओमपुरी जैसे कलाकार अपनी करामाती आवाज से इन धार्मिक चरित्रों को रेडियो पर अभिव्यक्ति देंगे। अनुपम खेर, जहां राजा दशरथ को आवाज देंगे, वहीं नसीरुद्दीन शाह रावण की गजर्ना करेंगे। ओमपुरी काल बन कर मंडराएंगे। छह महीने तक हर हफ्ते फीवर रेडियो पर रामायण को सुना जा सकेगा। इस नए कॉन्सेप्ट के बारे में फीवर 104 एफएम के बिजनेस हेड एस. कीर्तिवासन कहते हैं, ‘हमारे श्रोताओं के लिए रामायण को सुनना एक अलग ही अनुभव होगा, जहां आवाज के माध्यम से पूरी कथा उन तक पहुंचेगी। अपनी संस्कृति का प्रमुख हिस्सा रहे इस महान ग्रंथ की उपयोगिता और प्रासंगिकता को देखते हुए हमने अपने श्रोताओं तक इसे पहुंचाने का निर्णय लिया और मैं आश्वस्त हूं कि हर उम्र के श्रोता इसे पसंद करेंगे और सराहेंगे।’

‘फीवर रेडियो रामायण’ में रावण को आवाज दे रहे नसीरुद्दीन शाह कहते हैं, ‘रेडियो पर रामायण नहीं आई थी। इस कारण जब मेरे पास यह प्रस्ताव आया तो मैं बहुत खुश हुआ कि महान ग्रंथ रामायण को रेडियो श्रोताओं तक पहुंचाने में मेरी आवाज खास भूमिका निभा सकती है। यह वास्तव में मेरे लिए एक चुनौती भरा अनुभव है कि रेडियो के श्रोताओं के लिए आवाज के माध्यम से महापंडित रावण के चरित्र को, उनके तमाम इमोशन्स को अभिव्यक्त करना है।’

उधर ओमपुरी कहते हैं कि आज के बेहद सशक्त माध्यम रेडियो पर रामायण जैसे महान ग्रंथ को फिर से कहने की पहल काफी सराहनीय कदम है। मैंने तो इसकी रिकार्डिंग के दौरान भी रामकथा को खूब एन्जॉय किया है और श्रोता भी इसका भरपूर लाभ उठा पाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:104 एफएम पर छाएगा रामायण का फीवर