अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खूंटी के कई स्कूलों में नहीं फहरा तिरंगा

गणतंत्र दिवस के मौके पर जब पूर देश में उत्सव का माहौल था। जगह-ागह राष्ट्रीय झंडे फहराये जा रहे थे, लोग उत्साह में डूबे हुए थे। उसी समय खूंटी जिले के ग्रामीण इलाकों के कई स्कूलों में नक्सलियों ने तिरंगा झंडा नहीं फहराने दिया। कुछ स्कूलों में नक्सलियों ने काले झंडे लहराये। जिले के तोरपा, मुरहू और बानो प्रखंड इलाके में नक्सलियों की धमकी के कारण गणतंत्र दिवस के दिन दहशत का माहौल बना रहा। हालांकि जिला प्रशासन इस संबंध में किसी तरह की एसी घटना होने से इंकार करता है। खूंटी से हमार संवाददाता ने एसपी प्रभात कुमार के हवाले से बताया कि कहीं से कोई एसी खबर नहीं मिली है। पूर जिले में शांतिपूर्ण ढंग से गणतंत्र दिवस समारोह मनाया गया। चिह्नित इलाकों में पुलिस बल तैनात कर दिये गये थे।ड्ढr सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तोरपा प्रखंड के अम्बापखना के सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में विघटनकारी तत्वों ने काला झंडा फहराया। बाद में शिशु मंदिर में काला झंडा हटाकर स्थानीय लोगों ने तिरंगा झंडा फहराया। गौरबेड़ा स्थित एक मिशन स्कूल में भी काला झंडा फहराये जाने की सूचना है। मुरहू प्रखंड के कुटाम जरिया और बिन्दारोर में भी तिरंगा नहीं फहराने दिया गया। इलाके के ग्रामीण इस घटना के बाद दहशत में हैं। कुछ ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय थाने के अलावा जिला प्रशासन को भी दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खूंटी के कई स्कूलों में नहीं फहरा तिरंगा