DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुरानी साइकिलों से ही करना होगा अभ्यास

कॉमनवेल्थ गेम्स की साइकिलिंग प्रतियोगिता में कुल 48 पदक दांव पर लगे होंगे, लेकिन इसे विडंबना ही माना जाएगा कि भारतीय साईकिलिस्ट का ध्यान अभी पदक पर नहीं, बल्कि नई साइकिलों पर लगा हुआ है, जो उन्हें तीन अक्टूबर से शुरू होने वाले खेलों से लगभग दो सप्ताह पहले ही मिल पाएंगी।

राष्ट्रीय कोच चयन चौधरी ने कहा कि सरकार ने एक विदेशी कंपनी को नई साइकिलों के ऑर्डर दे दिए हैं और ये साइकिलें खेलों से लगभग 15 दिन पहले ही खिलाड़ियों को मिल पाएंगी। चयन ने कहा कि हमारी अधिकारियों से बात हुई है। भारत में तो पेशेवर साइकिलें बनती ही नहीं हैं, इसलिए इंग्लैंड की कंपनी को नई साइकिलों का ऑर्डर दिया गया है। लेकिन ये साइकिलें 15 सितंबर के आस पास ही हमें मिल पाएंगी। कोच ने दावा किया कि साइकिलिस्ट फिलहाल अपने खर्चे से खरीदी पुरानी साइकलों से अभ्यास कर रहे हैं, लेकिन नई साइकलों से 15 दिन का अभ्यास काफी है। राष्ट्रमंडल खेलों की साइकिलिंग स्पर्धा में 27 सदस्यीय भारतीय दल भाग लेगा। इसके लिए ट्रायल हो चुका है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुरानी साइकिलों से ही करना होगा अभ्यास