DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैसा है अनाथ शिशु, अदालत ने पूछा दिल्ली सरकार से

एक फुटपाथ पर अपने बच्चे को जन्म देकर मरने वाली महिला की खबरों पर स्वत: संज्ञान लेते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार से पूछा है कि वह शिशु की हालत के बारे में उसे पूरी जानकारी दे। अदालत ने सरकार से कहा है कि वह इस बात की भी पूरी जानकारी दे कि उसने बच्चे को उपचार देने के लिए क्या कदम उठाए हैं।

न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति मनमोहन की खंडपीठ ने सरकार से कहा है कि वह बच्चे की हालत के बारे में उसे बुधवार दोपहर 02.15 बजे तक जानकारी दे। अदालत ने सरकार से यह भी जानना चाहा है कि जो महिला उस शिशु को गोद लेना चाह रही थी, उसे उस शिशु को गोद दिए जाने के बारे में सरकार का क्या रवैया है।

एक महिला ने 26 जुलाई को शंकर मार्केट के एक फुटपाथ पर एक बच्ची को जन्म दिया था। इसके बाद महिला फुटपाथ पर ही बारिश के गंदे पानी में लेटी रही थी। आसपास में ठेले लगाने वाली कई महिलाएं इस महिला की मदद के लिए आईं थीं। महिला ने इन्हीं में से एक को अपने बच्चे को देखरेख के लिए सौंपा था। इन महिलाओं ने इस बालिका शिशु को करिश्मा नाम दिया। शिशु को गोल मार्केट के एक अनाथालय में रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैसा है अनाथ शिशु, अदालत ने पूछा दिल्ली सरकार से