DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नासा ने किया सबसे शक्तिशाली बूस्टर रॉकेट का परीक्षण

नासा ने किया सबसे शक्तिशाली बूस्टर रॉकेट का परीक्षण

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा और एयरोस्पेस कंपनी एटीके एयरोस्पेस सिस्टम ने मिलकर ठोस ईधन आधारित अब तक के सबसे शक्तिशाली रॉकेट इंजन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। हालांकि नासा के अंतरिक्ष कार्यक्रमों के भविष्य पर अभी भी संदेह बना हुआ है।

अमेरिका के पश्चिमी रेगिस्तानी इलाके उटाह में पांच खंडों वाले डीएम टू रॉकेट बूस्टर ने भारी आवाज और आग की लपटों को छोड़ते हुए सफलतापूर्व दो मिनट का गैर उड़ान परीक्षण किया।

एरीज वन रॉकेट के लिए डीएमटू को डिजाइन किया गया है जो अगली पीढ़ी के ओरिओन अंतरिक्ष यान बनाने में मदद करेगा। इसी अंतरिक्षयान की मदद से नासा वर्ष 2020 में अंतरिक्षयात्रियों को चंद्रमा पर पहुंचाएगी।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नक्षत्रमंडल के कार्यक्रम को रोक दिया और इसी कार्यक्रम में ये बूस्टर इस्तेमाल किया जाना था। इससे अगली पीढ़ी के इंजन का भविष्य अधर में लटक गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नासा ने किया सबसे शक्तिशाली बूस्टर रॉकेट का परीक्षण