DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन-सौरभ को मिला सम्मान

दावोस में चल रही विश्व आर्थिक मंच की बैठक में इतिहास रचा गया। टेक्नोलॉजी क्षेत्र की भारतीय कंपनी निवियो के संस्थापक सचिन दुग्गल और सौरभ धूत परिषद की बैठक में भाग लेने वाले सबसे युवा भारतीय बन गए। सम्मेलन में मौजूद करीब 6,000 प्रतिनिधियों की उपस्थिति में निवियो के इन भारतीय संस्थापकों को वर्ष 200े लिए टेक्नोलॉजी पायनियर के खिताब से भी नवाजा गया। अब यह कंपनी भी टेक्नोलॉजी विकास समूह की सदस्य बन गई है। पूर्व में गूगल, मोजिला कॉरपोरशन, 23एंडमी, अमायरिस बायोटेक्नोलॉजीस, जसी मशहूर कंपनियों को टेक्नोलॉजी पायनियर के खिताब से नवाजा जा चुका है। इस अवसर पर निवियो के संस्थापक सचिन दुग्गल ने कहा कि उनकी कंपनी दुनिया की पहली क्लाउड-कम्प्यूटर है जो कम्प्यूटिंग को केबल टीवी की तरह ही सरल और प्रत्येक वर्ग के लिए वहन क्षमता के योग्य बनाने के लिए प्रयासरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सचिन-सौरभ को मिला सम्मान