अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रसोई गैस के दाम घटे, पेट्रोल भी सस्ता

ेंद्र सरकार ने बुधवार रात पेट्रोल में पांच रुपए, डीजल में दो रुपए और रसोई गैस में 25 रुपए की कटौती करने की घोषणा की। विदेश मंत्री प्रणव मुखर्जी की अध्यक्षता में देर रात हुई राजनीतिक मामलों की मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया। मुखर्जी ने इस फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि यह कटौती बुधवार मध्य रात्रि से लागू होगी। इस बैठक में पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा भी उपस्थित थे। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री मुरली देवड़ा ने इसके बाद बताया कि तेल कंपनियों के नुकसान की भरपाई ‘तेल बौंड’ के जरिए की जाएगी। पेट्रोलियम पदाथोर्ं की बिक्री करने वाली कंपनियों को चालू वित्त वर्ष में करीब एक लाख 10 हजार करोड़ रुपए के नुकसान का अनुमान है। तेल विपणन कंपनियों के इस नुकसान की भरपाई के लिए आेएनजीसी, ऑयल इंडिया और गैल जैसे तेल एवं गैस उत्पादन करने वाली कंपनियां करीब 32000 करोड़ रुपए का योगदान कर चुकी हैं। सरकार की तरफ से 45000 करोड़ रुपए के करीब तेल बौंड जारी करने की अनुमति दी जा चुकी है। देवड़ा ने कहा कि शेष अंडर रिकवरी जो भी होगी वित्त वर्ष के अंत में अंतिम आंकड़े सामने आने के बाद उतनी राशि के और तेल बौंड जारी कर उसकी भरपाई की व्यवस्था की जाएगी। पेट्रोल, डीजल के दाम बाजार पर छोड़े जाने के बारे में पूछने पर देवड़ा ने कहा कि इस संबंध में कोई फैसला नहीं लिया गया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेज गिरावट के बाद पिछले कई दिन से सरकार भी पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतें घटाने को लेकर दबाव महसूस कर रही थी। सरकार की कोशिश थी कि पेट्रोलियम दामों में कमी का ऐलान आम चुनावों के मद्देनजर किया जाए। शायद इसीलिए इसे टाला भी जा रहा था। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रसोई गैस के दाम घटे, पेट्रोल भी सस्ता