अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीजन के साथ नहीं चल रहा कृषि विभाग

ृषि विभाग सीजन के साथ काम नहीं कर रहा है। पैसे का प्रावधान होने पर यह खर्च नहीं हो पा रहा है। इसे सरंडर कर दिया जा रहा है। वर्षो से लक्ष्य से कम बीज किसानों को बांटे जा रहे हैं। इस वर्ष खरीफ में लक्ष्य से विभिन्न फसलों के करीब 7100 क्िवंटल बीज कम बांटे गये। बीते वर्ष भी करीब 30 हाार क्िवंटल धान बीज कम बांटे गये थे।ड्ढr राज्य के लिए खरीफ की खेती ही महत्वपूर्ण है। यहां धान ही मुख्य फसल है। झारखंड गठन के बाद खाद्यान्न की 50 प्रतिशत कमी को दूर करने के लिए विभाग ने बीज विनमय योजना चलायी। इसमें किसानों को 0 प्रतिशत अनुदान और अदला-बदली के तहत प्रमाणित धान बीज का वितरण किया जाता है। कई जगह इसमें संकर धान बीज भी बांटे जाते हैं। इस खरीफ में 52541 क्िवंटल धान बीज 0 प्रतिशत अनुदान पर बांटने का लक्ष्य रखा था। बांटा जा सका 47525.70 क्िवंटल ही। अदला बदली योजना के तहत लक्ष्य 11582 क्िवंटल की जगह 0 क्िवंटल बांटा गया।ड्ढr धान की संकर किस्म में लक्ष्य 2100 की जगह 2046.76 क्िवंटल और अरहर बीज में लक्ष्यी जगह 850 क्िवंटल ही बांटा गया। बीते वर्ष हाार 135 क्िवंटल प्रमाणित बीज बांटने का लक्ष्य था। इसके विरुद्ध करीब 62152 क्िवंटल ही बांटा जा सका। अधिकारियों का कहना है कि बीज आपूर्ति का आदेश सभी को दे दिया जाता है। फसल लगाने का समय बीतने की स्थिति आने पर राज्य और किसान हित में आपूर्तिकर्ता को बीज की आपूर्ति करने से रोक दिया जाता है। जिलालक्ष्यवितरणड्ढr रांची60ड्ढr लोहरदगा17551638ड्ढr गुमला4001104.70ड्ढr सिमडेगा25452537.50ड्ढr पू. सिंहभूम240ड्ढr प. सिंहभूम265710ड्ढr गढ़वा20032002.40ड्ढr सरायकेला18471828.20ड्ढr लातेहार20642110.50ड्ढr पलामू20.40ड्ढr हाारीबाग26862601.20ड्ढr चतरा36463646.40ड्ढr गिरिडीह26572581.20ड्ढr कोडरमा0ड्ढr बोकारो10धनबाद125770ड्ढr गोड्डा15841584ड्ढr देवघर23062276.70ड्ढr साहेबगंज14571457ड्ढr दुमका225410.80ड्ढr जामताड़ा11421107ड्ढr पाकुड़1220ड्ढr (नोट : आंकड़ा कृषि निदेशालय का। मात्रा क्िवंटल में, 0 प्रतिशत अनुदान पर बीज वितरण योजना के तहत।) ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीजन के साथ नहीं चल रहा कृषि विभाग