DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल विवादों से देश में खेलों का भविष्य खतरे में

राष्ट्रमंडल विवादों से देश में खेलों का भविष्य खतरे में

देश के शीर्ष मुक्केबाज़ अखिल कुमार का मानना है कि राजधानी में अक्टूबर में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों पर उठे विवादों से खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर असर नहीं पड़ेगा लेकिन इससे देश में खेलों का भविष्य ज़रूर खतरे में पड़ जाएगा।
 
अखिल ने बातचीत में कहा कि हमें इन विवादों से कोई फर्क नहीं पड़ता और न ही यह हमारी तैयारियों को खराब कर सकते हैं लेकिन भ्रष्टाचार और अनियमितताओं के आरोपों से देश में खेलों के लिए ज़रूर खतरा पैदा हो गया है।
 
राष्ट्रमंडल खेलों में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार और अनियमितता के आरोप लगने के बाद इन खेलों की सफलता को लेकर सवाल उठाए जाने लगे थे। देश के शीर्ष गोल्फर ज्योति रंधावा ने भी इन आरोपों को शर्मनाक करार दिया था।
 
अखिल ने कहा कि यह सच है कि शानदार खेल आयोजित करने के ढेरों दावे करने के बाद उन्हें पूरा न करना शर्मिंदगी की बात है। मेरा मानना है कि खेल और भ्रष्टाचार कभी साथ-साथ नहीं चल सकते। इस बारे में निश्चित रूप से कुछ करने की ज़रूरत है।

29 वर्षीय अखिल ने कहा कि लेकिन हम खिलाड़ी इन सब बातों पर ध्यान नहीं दे रहे। हमारा पूरा ध्यान केवल अपने प्रदर्शन पर और राष्ट्रमंडल खेलों में देश के लिए पदक जीतने पर केंद्रित है।
 
2006 के मेलबोर्न राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अखिल इस वक्त नेशनल इंस्टीटूट ऑफ स्पोर्ट्स में कड़ा अभ्यास कर रहे हैं और अपनी तैयारियों से संतुष्ट हैं। हालांकि वह इस समय अपनी फॉर्म से जूझ रहे हैं लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई कि राष्ट्रमंडल खेलों में उनका प्रदर्शन अच्छा रहेगा।
 
अखिल ने कहा कि मैं कड़ी मेहनत कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मैं खेलों में अच्छा प्रदर्शन करूंगा। मैं अपनी गति पर ध्यान दे रहा हूं, प्रोटीनयुक्त आहार ले रहा हूं और अपना वज़न नियंत्रण में रख रहा हूं। मैंने अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ी है। अब मुझे किस्मत के साथ की ज़रूरत है।

उन्होंने कहा कि मैं किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हूं। मैंने अपने पिछले मुकाबलों की वीडियो फुटेज देखी है और उन्हें देखकर अपनी गलतियों के बारे में जाना है तथा उन्हें दूर किया है। मुझे विश्वास है कि राष्ट्रमंडल खेलों में मैं उन्हें नहीं दोहराऊंगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल विवादों से देश में खेलों का भविष्य खतरे में