DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीवान अस्पताल में डाक्टरों का हंगामा

सदर अस्पताल स्थित जिला स्वास्थ्य समिति में डाक्टरों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान तू-तू-मैं-मैं हुई। अमर्यादित शब्दों का भी प्रयोग हुआ। दो गुटों के बीच मारपीट होते-होते बची। इससे अस्पताल में अफरातफरी मच गई। आक्रोशित कई डाक्टर डीएचएस के सभी कर्मचारियों को हटाने की मांग कर रहे थे। कोई डाक्टर डाटा गड़बड़ करने का आरोप लगा रहे थे तो कई जेबीएसवाई की राशि कम देने का आरोप लगा रहे थे। हुआ यूं कि सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों के साथ मंगलवार को अस्पताल के सभाकक्ष में डीएम की अध्यक्षता में बैठक हुई।ड्ढr ड्ढr इसमें जिलाधिकारी ने कुछ प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों से गलत डाटा भेजने पर कारणपृच्छा किया। शाम में जसे ही बैठक समाप्त हुई और डीएम गई। इसके बाद कई डाक्टर भड़क गए और स्वास्थ्य समिति के कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिए। सभी कर्मचारियों को हटाने की भी मांग की। यह देख सीएस डा. योगेन्द्र प्रसाद राक ने डाक्टरों को समझा-बुझाकर शांत कराया। खगड़िया में मुखबिर की गोली मारकर हत्याड्ढr बेलदौर (खगड़िया) (ए.सं.)। घोड़े पर सवार सशस्त्र अपराधियों ने बुधवार की दोपहर पुलिस के एक प्रमुख सहयोगी की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना चोढ़ली हटिया के समीप के निकट घटी। घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी घोड़े पर सवार हो दिघौन गांव की ओर भाग निकले। मृतक की पहचान चोढ़ली गांव के मो. मंसूर आलम के रुप में की गई है।ड्ढr ड्ढr अपराधियों ने निकट से उसे तीन गोलियां मारी जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। जानकारी के मुताबिक मो. मंसूर का लगभग 3 लाख रूपया कुख्यात कैलू मियां के समधी सलाम रहमानी के यहां बकाया था। वही रूपया वापस करने के लिए उसे बुलाया गया था। वह पिपरा से अपने घर सुखाय बासा मो. आरिफ एवं एक अन्य व्यक्ित के साथ जा रहा था कि अपराधियों ने उसको गोली मार दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीवान अस्पताल में डाक्टरों का हंगामा