अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टेम्पो चालकों को अब एक साल का परमिट

राज्य के 50 हजार से अधिक टेम्पो चालकों के लिए बड़ी राहत। उन्हें चार महीने के बजाय जल्द ही एक वर्ष का परमिट मिलेगा। परिवहन विभाग ने सभी रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (आरटीए) को किसी भी मार्ग पर नियमित रूप से चलने वाले टेम्पो को अब अस्थाई परमिट (टीपी) नहीं देने का आदेश दिया है। इससे टेम्पो मालिकों को भी बार-बार आवेदन लेकर आरटीए का बेवजह चक्कर काटने और दलालों के चंगुल से छुटकारा मिलेगा।ड्ढr ड्ढr पटना डीटीओ में निबंधित टेम्पो की संख्या 25837 है। इनमें से लगभग 16 हजार टेम्पो राजधानी में चलते हैं। हालांकि शेष टेम्पो अन्य जिलों में चले जाते हैं। पूर राज्य में 501टेम्पो निबंधित हैं। चार माह के परमिट के लिए तीन सीट वाले टेम्पो से 48 रुपये और छह सीट वाले टेम्पो से 70 रुपये लिये जाते हैं। नियमानुसार किसी भी टेम्पो को दो-तीन बार से अधिक अस्थाई परमिट नहीं दिया जाना चाहिए। हालांकि अधिकतर आरटीए इसका उल्लंघन करते हैं। परमिट लैप्स होने पर जुर्माने से बचने के लिए टेम्पो मालिकों को बार-बार आरटीए कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता है। वाहनों का परिचालन परमिट लेकर ही हो, इसके लिए नियमों को कुछ आसान बनाया जायेगा।बिहार स्टेट ऑटो चालक संघ के महासचिव राजकुमार झा कहते हैं, नयी व्यवस्था में बड़ी राहत मिलेगी। संघ लगातार इस व्यवस्था की मांग करता रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टेम्पो चालकों को अब एक साल का परमिट