अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदी से निपटने के लिए मिलकर काम करें: आेबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा चाहते हैं कि दुनिया भर की विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं वाले देश वैश्विक वित्तीय संकट से निपटने के लिए मिलकर काम करें। आेबामा चाहते हैं कि आगामी अप्रैल में होने वाली जी 20 बैठक में सभी सदस्य देश और अधिक विशिष्ट योजनाओं के साथ आएं। ब्रिक देशों यानी ब्राजील, रूस, भारत और चीन को फाइनेंशियल स्टेबिलिटी फोरम (एफएसएफ) में न शामिल किए जाने के बारे में ओबामा के प्रवक्ता रॉबर्ट गिब्स ने कहा, ‘‘राष्ट्रपति ने इस बारे में तभी बात की थी जब वे सिर्फ सीनेटर और राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी थे।’’ वाशिंगटन में 20 नवंबर को हुई जी20 शिखर बैठक में भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल हुए थे और वहां यह सहमति बनी थी कि एफएसएफ के सदस्य देशों की संख्या बढ़ाई जाएगी और इसमें भारत और चीन जसे विकासशील देशों को शामिल किया जाएगा। एफएसएफ की स्थापना वर्ष 1में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वित्तीय स्थिरता स्थापित करने के लिए की गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंदी से निपटने के लिए मिलकर काम करें: आेबामा